Published On : Tue, Nov 25th, 2014

यवतमाल : कुदरत का करिश्मा: मृत महिला जिंदा हुई!

 

  • झीरो हुए पल्स रेट फिर शुरू हुए
  • यवतमाल मेडिकल कालेज की घटना

यवतमाल । यवतमाल मेडिकल कालेज में आज एक अजुबा देखने मिला. मरचुकी महिला मरीज 45 मिनट बाद फिर जिंदा हो गई. इस महिला को इस कॉलेज के अतिदक्षता कक्ष में रखा गया था. पल्स रेट गिनने की मशीन उसके एक अंक को सलग्र की गई थी. आज सुबह इस मशीन ने पल्स रेट झीरो बताया. उसके बाद वहां तैनात चिकित्सों ने जांच कर उस महिला को मृत घोषित कर दिया. मगर 45 मिनट बाद वह फिर जिंदा हो गई.

इस  घटना को लोगों ने अजिबोगरीब करार दिया है. इस महिला का नाम निखत परवीन मो. शफीक (21) बताया है. यह महिला नेर के खिड़कीपुरा की निवासी है. उसे 3 दिन पहले प्रसूति के लिए मेडिकल कॉलेज में दाखिल किया गया था. दो दिन पहले उसका सिझर आपरेशन किया गया. जिसमें बच्चा मृत पाया गया. इस आपरेशन के बाद से ही निखत परवीन की हालत चिंताजनक बनी हुई है. उसे आक्सीजन भी लगाया गया है. उसके पल्स रेट अचानक कम होते होते झीरो पर आ गए. जिसके बाद चिकित्सों ने बड़ी मेहनत की, मगर इस महिला के शरीर में प्रतिसाद नहीं दिया. जिससे चिकित्सों ने मृत  घोषित कर कागजी कार्रवाई उसके पति मो. शफीक से करवाई. कुछ देर बाद उसके पार्थिव को मरच्युरी में लेके जानेवाले थे. मगर अचानक इस महिला के शरीर में 45 मिनट बाद हलचल देखी गई. जिसके बाद फिर से इस महिला को ऑ सीजन लगाया गया. पल्स रेट की मशीन भी जोड़ी गई. जो पहले 40, बाद में 44 फिर 99 तक पहूंची. इसे कुदरत का करिश्मा करार दिया जा रहा है. समाचार लिखे जाने तक इस महिला की हालत चिंताजनक बनी हुई थी.

Yawatmal Mdical College