| |
Published On : Mon, Jul 23rd, 2018

मेट्रो के निर्माणकार्य के नीचे से निकल रहे हैं खतरनाक ढंग से वाहनचालक

नागपुर: शहर में मेट्रो रेल का कार्य प्रगति पर चल रहा है. जगह जगह पर पिल्लर, सीमेंट और लोहे के रूफ बनाये गए हैं. जिसके नीचे से रोजाना नागरिक अपनी जान हथेली पर लेकर निकल रहे हैं. अग्रसेन चौक से लेकर बर्डी में भी लोग इन लोहे के पिल्लरों के नीचे खड़े रहते हैं.

जबकि कुछ वाहनचालक इन पिल्लरों के नीचे खड़े रहने से भी डरते हैं. देखने में आया है कि मेट्रो में कई जगहों पर सुबह के समय जब शहर का ट्रैफिक व्यवस्त होता है, तब भी कार्य प्रगति पर रहता है. जिसके कारण नागरिकों के साथ कोई भी दुर्घटना घटने से भी इंकार नहीं किया जा सकता.

शहर में अब तक लोहे के एंगल गिरने के साथ साथ और अन्य तरह की कई घटनाएं भी मेट्रो कार्य के दौरान हो चुकी हैं. कुछ दिन पहले एक फोर व्हीलर पर भी एंगेल गिरने की वजह से गाड़ी क्षतिग्रस्त हो चुकी है. गनीमत रही कि बोनट पर गिरने से किसी भी प्रकार से जनहानि नहीं हुई. लेकिन अगर किसी की हादसे में जान जाती तो केवल जांच समिति गठित कर और कार्रवाई करके मामले को रफा दफा कर दिया जाता है.

सैकड़ों टन के लोहे के पिल्लर, सीमेंट के पिल्लर के नीचे से हजारों नागरिक गुजरते हुए यही सोचते हैं कि कई उनके साथ कोई हादसा न हो जाए.

मेट्रो का निर्माणकार्य जिन जगहों पर चल रहा है वहां पर देखा जाए तो हादसे से बचने के लिए कोई भी उपाय नहीं किए गए हैं.

अग्रसेन चौक में चल रहे कार्य में लोहे के पिल्लर के निचे लगाई गई जाली फटने की कगार पर आ चुकी है. जिसमें रखा सामान कभी भी नागरिकों पर गिर सकता है. लेकिन मेट्रो के जरिए विकास का सपना देखनेवालों को आम जनता की जान की फ़िक्र कहां है!

Stay Updated : Download Our App