Published On : Mon, Aug 23rd, 2021

दृष्टि हानि से बचाएगी महापौर नेत्र ज्योति योजना

-सैकड़ों नागरिकों ने करवाई आंखों की जांच

नागपुर: यदि आपको मोतियाबिंद है तो सर्जरी ज़रूरी है। यदि थोड़ी सी भी देरी हो जाती है तो दृष्टि की स्थायी हानि हो सकती है। इसलिए आर्थिक रूप से कमजो र वर्ग के नागरिकों को तत्काल मोतियाबिंद सर्जरी प्रदान करने के लिए महात्मे आई फाउंडेशन के सहयोग से इस साल से ‘महापौर नेत्र ज्योति योजना’ की घोषणा की गई। इस प्रकल्प का क्रियान्वयन भी शुरू हो गया है। महापौर दयाशंकर तिवारी ने शहर के नागरिकों से इसका लाभ उठाने की अपील की।

‘महापौर नेत्र ज्योति योजना’ के अंतर्गत नागपुर महानगरपालिका, महात्मे आई फाउंडेशन एवं जिला दृष्टिहीनता नियंत्रण समिति की ओर से वार्ड नं. 19 गांधीबाग उद्यान में छठी नेत्र जांच एवं मोतियाबिंद शल्य चिकित्सा शिविर का आयोजन किया गया। महापौर तिवारी शिविर के उद्घाटन पर बोल रहे थे। शिविर उद्‌घाटन के समारोह में प्रमुख अतिथि के तौर पर चिकित्सा व स्वास्थ्य समिति सभापति महेश महाजन, वार्ड 19 के वरिष्ठ नगरसेवक ॲड. संजयकुमार बालपांडे, नगरसेविका सरला नायक, विद्या कन्हेरे, मनपा के अतिरिक्त सहायक स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. विजय जोशी, महापौर लोकसेवा प्रतिष्ठान के महेशकुमार कुकडेजा, महात्मे आई बैंक के डॉ. अरविंद डोंगरवार, डॉ, मनकुमारी, आदर्श भैसारे, महादेव, संचिता, प्रिया आदि उपस्थित थे।

आगे बोलते हुए महापौर दयाशंकर तिवारी ने कहा कि महापौर नेत्र ज्योति योजना के अंतर्गत शहर के विभिन्न हिस्सों में नागरिकों की आंखों की जांच के लिए शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। महात्मे आई फाउंडेशन के माध्यम से ज़रूरतमंदों की नि:शुल्क मोतियाबिंद सर्जरी की जा रही है। आज का शिविर छठा शिविर है और अगले शिविरों का आयोजन 28 अगस्त को सेमिनरी हिल्स और 29 अगस्त को गांधीनगर में किया जा रहा है। महापौर ने आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग के नागरिकों से इस शिविर का लाभ उठाने की अपील की।

शिविर में वार्ड नं 19 और आसपास के परिसर के कई नागरिकों की आंखों की जांच हुई। जिन लोगों को मोतियाबिंद की सर्जरी की ज़रूरत है, उनका महात्मे आई हॉस्पिटल में ऑपरेशन किया जाएगा। इस दौरान नागरिकों को आवश्यक दवाएं भी वितरित की गईं। शिविर में भाजपा के अनिल मानापुरे, अविनाश शाहू, अमोल कोल्हे, अजय गौर, प्रशांत गौर, ब्रजभूषण शुक्ला, गोकुल प्रजापती रतन श्रीवास, अनिल बावनगडे, पुनीत पोद्दार, सुनील जैन, रमाकांत गुप्ता, मंदा पाटील, आभा चंदेल, राजेश हिरुलकर, विक्की बाथो, उमेश वारजूकर, चंद्रकांत गेडाम, प्रकाश हटवार, कमलेश शर्मा, अनुप गोमासे आदि उपस्थित थे।