Published On : Fri, May 28th, 2021

मनपा की आम सभा बैठक में लिए गए कई महत्त्वपूर्ण निर्णय

नागपुर: शुक्रवार को आयोजित मनपा की आम सभा की बैठक में कई महत्त्वपूर्ण निर्णय लिए गए.

*दिव्यांग व्यक्तियों को व्यवसाय करने के लिए स्टॉल देने का मुद्दा मोहम्मद जमाल ने उठाया. इस विषय पर मनपा की ओर से रोजगार के लिए स्थान उपलब्ध कराया जाएगा. इसी आधार पर मनपा अधिकारीयों को नीति निर्धारित करने के निर्देश महापौर दयाशंकर तिवारी ने दिए.

मनपा क्षेत्र के अंतर्गत संचालित कितने अस्पतालों ने अग्नि सुरक्षा संबंधित नियमों का पालन किया है, इस संदर्भ में विरोधी पक्ष नेता तानाजी वनवे ने प्रश्न पुछा. इस पर इमारत विभाग, स्वास्थ्य विभाग और अग्निशमन विभाग ने संयुक्त रूप से जाँच करनी चाहिए, और नियमों का उल्लंघन करने वाले अस्पतालों की जानकारी आयुक्त के पास देने के निर्देश महापौर ने दिया.

* राजकुमार साहु ने मोबाइल टॉवर के चलते निर्माण होनेवाले रेडियशन के संदर्भ में प्रश्न पूछा. टेलिकम्यूनिकेशन विभाग के माध्यम से सर्वेक्षण कर कितना रेडिएशन निर्माण हो रहा है यह रिपोर्ट मांगना और शहर में कुल कितने टॉवर हैं इसके बारे में जानकारी संबंधित तकनीकी समिति से लें. ज़्यादा रेडिएशन निर्माण होने के मामले यदि सामने आए तो उपयुक्त कार्रवाई करने के निर्देश महापौर दयाशंकर तिवारी ने दिए.

* वरिष्ठ नगरसेवक प्रफुल्ल गुडधे ने कोविड अस्पतालों के बारे में चर्चा की. मनपा के माध्यम से जिन अस्पतालों को अनुमति मिली है, उन अस्पतालों में सरकारी दरों के अनुसार 80 प्रतिशत कोटा में कितने मरीज़ भर्ती हैं, इसकी पूरी जानकारी मनपा के आनेवाली सभा में रखने का निर्देश महापौर ने दिया. इसके

* शहर में जारी विकास कार्यों के संदर्भ में महापौर ने चर्चा की और कुछ प्रस्तावित प्रकल्पों को मंज़ूरी दी गई. स्मार्ट सिटी के संदर्भ में नगरसेवक प्रदीप पोहाणे और सत्तापक्ष नेता अविनाश ठाकरे की सूचना के अनुसार कार्यों को स्वीकृति दी गई.

* स्थगन प्रस्ताव में नेता प्रतिपक्ष तानाजी वनवे ने कूड़ा उठाने वाली कंपनियों के कामकाज पर सवाल उठाया. इस पर नगरसेवक जितेंद्र घोडेस्वर ने कहा कि कूड़े में मिट्टी मिलाने का वीडियो पाया गया है. महापौर ने आयुक्त को वीडियो के साथ लिखित शिकायत दर्ज कराने का निर्देश दिया. महापौर दयाशंकर तिवारी ने भी आयुक्त को दोषी पाए जाने वाली कंपनी के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई करने का निर्देश दिया.

* ‘साई’ के ज़मीन पर जो लोग रह रहे हैं, उन्हें एक महिने के अंदर उनका स्वामित्व सिद्ध कराने वाले सरकारी दस्तावेजो के साथ मनपा द्वारा निर्धारित समिति के पास शिकायत करना होगा. इसके लिए अतिरिक्त आयुक्त राम जोशी की अध्यक्षता में एक समिति स्थापित करने का निर्देश महापौर ने दिया. शिकायतों पर गौर करके इन नागरिकों के पुनर्वास के लिए 5 एकड़ ज़मीन की व्यवस्था की गई है और उनका पुनर्वास वहीँ होगा, यह निर्णय सभा में लिया गया.