Published On : Mon, Dec 25th, 2017

मेजर माहोरकर का पार्थिव शरीर शादी की सालगिरह पर घर पहुंचा

जम्मू कश्मीर में शनिवार को पाकिस्तान की ओर से की गई गोलीबारी में महाराष्ट्र के मेजर प्रफुल्ल अम्बादास माहोरकर के शहीद हो जाने से पवनी समेत पूरे जिले में शोक की लहर दौड़ गई है। रविवार को पवनी वासियों ने संपूर्ण प्रतिष्ठान व व्यापारिक गतिविधियों को बंद रख प्रफुल्ल को श्रद्धांजलि अर्पित की। उनका पार्थिव शरीर रविवार देर रात पवनी लाया गया, लेकिन इसके पहले से ही उनके घर पर शहरवासियों का तांता लगना शुरू हो गया। बता दें कि जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले के केरी सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से की गई गोलीबारी में मेजर प्रफुल्ल व तीन अन्य जवान शहीद हो गए थे।

शहीद मेजर प्रफुल्ल मोहरकर के पार्थिव शरीर को एयरफोर्स के विशेष विमान से रविवार को नागपुर विमानतल पर लाया गया। साथ में उनकी पत्नी अबोली मोहरकर भी थीं।

– यहां एयरफोर्स स्टेशन, सोनेगांव पर उनके पार्थिव शरीर को राजकीय सम्मान के साथ विदाई दी गई। शहर के पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, विधायक परिणय फुके, आयुक्त अनूप कुमार एवं जिलाधिकारी सचिन कुर्वे, जीआरसी कामठी के डिप्टी कमांडेंट कर्नल सविता खन्ना, सोनेगांव एयरफोर्स स्टेशन के कैप्टन रोबिन िवसोयी, कामठी हेडक्वार्टर एसएसओ ए.एस.सहलोत्रा, एसडीएम शिरीष पांडे, कैप्टन दीपक लिमसेय के अलावा एयरफोर्स, आर्मी एवं अन्य अधिकारियों ने श्रद्धांजलि अर्पित की।

– पाकिस्तान द्वारा जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा पर संघर्ष-विराम का उल्लंघन करते हुए शनिवार शाम को गोली-बारी की गई थी।