Published On : Thu, Mar 5th, 2015

सावली के महात्मा गांधी महाविद्यालय को नैक से “बी” श्रेणी का दर्जा

nack
सावली (भंडारा)। विद्यापीठ अनुदान आयोग अधिनस्त राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (नैक) ने स्थानिय राष्ट्रपिता महात्मा गांधी कला, वाणिज्य और विज्ञान महाविद्यालय को “बी” श्रेणी मिलने की जानकारी प्राचार्य डा. चंद्रमौली ने दी है.

आयोजित पत्रकार परिषद में महाविद्यालय के प्राचार्य डा. चंद्रमौली ने बताया कि विद्यापीठ अनुदान आयोग निर्मित राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (नैक) द्वारा नियुक्त समिति ने 19 से 21 फरवरी 2015 में महाविद्यालय से मुलाकात की. केरल विद्यापीठ के निवृत्त प्र- कुलगुरु प्रौ जे. प्रभाष की अध्यक्षता में समिति में बिहार राज्य के निवृत्त प्राचार्य डा. श्रीकांत शर्मा और गुवाहाटी विद्यापीठ के राज्यशास्त्र के विभाग प्रमुख प्रौ सोमेश्वर गोस्वामी समन्वयक सदस्य थे. महाविद्यालय के पाठ्यक्रम, अध्यापन पद्धति और मूल्यमापन, संशोधन और अतिरिक्त सेवाकार्य, महाविद्यालय के भौतिक सुविधा, परिसर और ईमारत, छात्रों की प्रगति, विकास और महाविद्यालय के लिए उनका योगदान, महाविद्यालय के माध्यम से उच्च शिक्षण की सुविधा और महाविद्यालय का संचालन करते हुए अलग-अलग पदाधिकारी और संचालक मंडल की भूमिका देखी.

मुलाकात के दौरान नैक मूल्यांकन समिति ने महाविद्यालय के प्राचार्य, संस्था के पदाधिकारी, महाविद्यालय के शिक्षक और कर्मचारी, स्थानीय नैक समन्वय समिति और छात्र, अभिभावक से चर्चा की. महाविद्यालय के शैक्षणिक और शैक्षणीकोत्तर कार्य, किये गए संशोधन पर कार्य, सामाजिक, सांस्कृतिक, क्रिडा और आर्थिक क्षेत्र में किए कार्य, भौतिक सुविधा और ईमारत देखकर समिति के अध्यक्ष प्रौ जे प्रभाष ने परिषद की ओर समिति की रिपोर्ट पेश की. रिपोर्ट के अनुसार राष्ट्रीय मूल्यांकन और प्रत्यायन परिषद (नैक) ने हालही ही महविद्यालय को “बी” श्रेणी (2.33) दिया गया.  नैक द्वारा महाविद्यालय को मिली बी श्रेणी की सफलता के लिए भारत शिक्षण प्रसारक मंडल के अध्यक्ष संदीपभाऊ गुड्डमवार, सचिव राजाबालपाटिल संगिडवार, कोषाध्यक्ष नंदाताई अल्लुरवार, सदस्य डा. विजयराव शेंडे, सभी पदाधिकारी, महाविद्यालय के सभी शिक्षक, कर्मचारी,छात्र और उनके अभिभाकों का आभार माना तथा तालुका के छात्रों को उच्च शिक्षण की उत्तम सुविधा उपलब्ध करने का आश्वासन दिया.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement