Published On : Fri, Jun 9th, 2017

13 जून को महाराष्ट्र किसान रोकेंगे ट्रेन,6 राज्यों में पहुंची किसान आंदोलन की आंच

Advertisement

किसान आंदोलन के आठवें दिन हिंसा के साथ जमकर सियासत भी गर्म हुई। मध्यप्रदेश प्रशासन से अनुमति नहीं मिलने के बावजूद गुरुवार को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी वहां पीड़ित किसानों के परिवार जनों से मिलने पहुंच गए। वह उदयपुर के रास्ते मध्यप्रदेश की सीमा में घुसे थे।

राहुल के मध्यप्रदेश के नीमच के नयागांव में पहुंचते ही उन्हें पुलिस ने हिरासत में ले लिया, हालांकि बाद में उन्हें जमानत पर छोड़ दिया गया। बता दें कि राहुल को हिंसा इलाके में जाने से रोकने के लिए एसपी रैंक के 6 अफसर मौजूद थे।

इसके अलावा एमपी व राजस्थान के 600 से ज्यादा अधिकारी व जवान तैनात थे। और एक महत्वपूर्ण बात यह हुई कि सरकार ने मंदसौर किसान आंदोलन को संभालने में नाकाम रहे डीएम स्वतंत्र कुमार सिंह और एसपी ओपी त्रिपाठी को हटा दिया।सरकार ने इनके स्थान पर शिवपुरी डीएम ओम प्रकाश को मंदसौर भेजा तथा एसपी मनोज कुमार को नीमच भेजा।

Advertisement

जानकारी के मुताबिक किसान आंदोलन में हुई किसनों की मौत के मामले में सरकार को इनकी लापरवाही की रिपोर्ट मिली थी। मामले में दूसरी ओर शाजापुर में प्याज खरीद के दौरान उपजे विवाद में किसानों ने चार बाइक और एक ट्रक को आग लगा दी। किसान 10 जून तक खऱीदी किए जाने की मांग कर रहे थे । हालांकि जानकारी के अनुसार डीएम ने उनकी मांग को स्वीकार कर लिया था पर इसके बावजूद किसानों ने लगभग चार घंटे से अधिक समय तक बवाल काटा।

भड़के किसानों ने एसडीएम को पीटा। जिससे वह घायल हो गए। किसानों की ओर से किए गए पथराव की वजह से पुलिसकर्मियों सहित एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए । जिसके बाद प्रशासन की ओर से शहर में धारा- 144 लगा दी गई।

अभी बी नहीं हुआ महाराष्ट्र किसानों का आंदोलन शांत , रोकेंगे ट्रेन

महाराष्ट्र में किसानों का आंदोलन अभी शांत नहीं हुआ है। महाराष्ट्र किसानों ने घोषणा की है कि वह 13 जून को ट्रेन रोकेंगे। इससे आशंका जताई जा रही है कि आम जनों को भी दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement