Published On : Fri, Mar 9th, 2018

महाराष्ट्र बजट 2018-2019 विधानसभा में पेश; ‘सबका साथ, सबका विकास’ पर रहा जोर

Advertisement

MahaBudget 2018 - Sudhir Mungantiwar
मुंबई: महाराष्ट्र सरकार के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने शुक्रवार को राज्य बजट 2018-2019 विधानसभा में पेश किया। बता दें कि यह सत्तारूढ़ देवेंद्र फडणवीस की सरकार का चौथा बजट है।

सरकार ने ऑटो रिक्शा ड्राइवर वेलफेयर बोर्ड बनाने का निर्णय लेते हुए शुरुआती तौर पर 5 करोड़ आवंटित किए हैं। इसके इतर पानी और खाने के लिए दिक्कत ना हो, जिसके मद्देनजर 18 करोड़ रुपये जानवरों के लिए उपलब्ध कराए गए हैं, जिससे उन्हें खाना-पानी उपलब्ध कराया जाए।

स्वच्छता के लिए 1,526 करोड़ आवंटित
राज्यभर में शहरों के कूड़ा-करकट की सफाई आदि के लिए 1526 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है। ग्रामीण क्षेत्रों में नई सीवर ट्रीटमेंट स्कीम के लिए 335 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। गृहमंत्रालय को 13 हजार 385 करोड़ रुपये दिए गए हैं। इस रकम का उपयोग पुलिस बल के आधुनिकीकरण के लिए भी किया जाएगा। राज्य के अलग-अलग शहरों में सीसीटीवी लगाने के लिए 165 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

Advertisement

सड़कों की मरम्मत के लिए मिले 10,828 करोड़
यही नहीं, 10 हजार 828 करोड़ रुपये सड़कों की मरम्मत और फिर से निर्माण के लिए दिए गए हैं। इन सबके अलावा सरकार एक वेब पोर्टल की शुरुआत करेगी, जिस पर बीआर आंबेडकर, अन्नाभाऊ लाठे और सावित्रीबाई फुले से जुड़ी जानकारी उपलब्ध होगी। वित्तमंत्री सुधीर मुनगंटीवार के मुताबिक, नवी मुंबई एयरपोर्ट पर एक रनवे प्रस्तावित है, जिसका निर्माण 2019 तक पूरा हो जाएगा। साथ ही 150 करोड़ रुपये आंबेडकर मेमोरियल के लिए मुहैया कराए गए हैं।

शिवाजी के लिए 300 करोड़ रुपये आवंटित
महाराष्ट्र सरकार द्वारा पेश किए गए बजट में शिवाजी मेमोरियल स्टैचू के लिए 300 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। बजट पेश करते वक्त शिवसेना की ओर से आदित्य ठाकरे और मिलिंद नार्वेकर ने पूरा बजट सुना। बता दें कि महाराष्ट्र के इतिहास में पहली बार बजट सांकेतिक भाषा में भी प्रस्तुत किया गया।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement