Published On : Fri, Nov 2nd, 2018

इन्दौर में आधुनिक नई टेक्नोलाजी मषीनरी का महाकुम्भ

आॅल इंडिया दाल मिल एसोसिएषन के अध्यक्ष सुरेष अग्रवाल, उपाध्यक्ष सुभाष गुप्ता और सचिव दिनेश अग्रवाल ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि दिनांक 8 9, एवं 10 फरवरी 2019 को लाभ-गंगा कन्वेन्षन सेन्टर, बायपास रोड़, इन्दौर पर दाल एवं अनाज मषीनरी तथा फ्लोअर मिल मशीन का महाकुम्भ होने जा रहा है.

इस एग्जीबिषन में लगभग 125 नेषनल एवं इंटरनेषनल कंपनियां भाग लेने इन्दौर आ रही हैं, जिसमें आधुनिक टेक्नोलाॅजी की मषीनों का डेमो (प्रदर्षन) भी किया जावेगा।

देश के बाहर से एवं अन्य राज्यों से बड़ी संख्या में पूना, बैंगलोर, नोएडा, दिल्ली, कोयंबटूर, कोच्चिन, अहमदाबाद, सिद्धपुर, लुधियाना, चंडीगढ़, राजकोट सहित अनेक षहरो की कंपनियां भाग ले रही हैं।

देश के बाहर से –
1) कोरिया की कलर साॅर्टेक्स बनाने वाली कंपनी
2) टर्कीः फ्लोअर मिल एवं दाल मिल मशीनरी की कंपनी
3) स्पेनः सायलोज स्टोरेज सिस्टम भंडारण
4) जर्मनीः एयर कम्प्रेशर
5) चायनाः कलर सेटिंग्स
6) ताइवान: दाल मिल ड्राॅयर निर्माता कंपनी सहित आदि विदेशी कम्पनियां इस
एग्जीबिशन में भाग ले रही हंैं। इनके अतिरिक्त भारत की अनेक कंपनियां
अपनी-अपनी बेस्ट मशीनों को लेकर आ रही हैं।
7) दाल मिल प्लांट बनाने वाली लगभग 11 कम्पनियां हंै,
8) फ्लोअर मिल की लगभग 10 कंपनिया आ रही हैं
9) कलर साॅर्टेक्स की लगभग 12 कंपनिया भाग लंेगीं
10) ड्राॅयर बनाने वाली लगभग 5 कंपनियां आ रही हैं
11) भंडारण के लिये सायलोज बनाने वाली कंपनियां
12) बल्क पैकिंग पैकेजिंग मशीन की 5 कंपनी आ रही हैं
13) पाऊच पैकेजिंग बेग 4 सहित
14) वाइप्रो स्क्रीन एवं मेगनेट की 5 कंपनी आ रही हैं
15) ट्रक लोडर मशीन की 2
16) एयर कम्प्रेशर की 5
17) क्लिनिंग करने की मशीनों की 6
18) गियर बाॅक्स की 3
19) सीड (बीज) क्लिनिंग की 4
20) मक्का क्रेशर मशीन की 2 एवं
21) लेब इक्यूपमेंट्स (माइश्चर मीटर) की 4 कंपनियां भाग ले रही हैं। इसके अतिरिक्त और भी अनेक कंपनियां आने की उम्मीद हैं
22) बारकोडिंग मशीन बनाने की कंपनी ने सहमति दी हैं
23) तोल-काॅंटा बनाने वाली मशीन
24) आधुनिक टेक्नोलाॅजी की सिलाई मशीन
25) मसालो की पिसाई करने वाली मशीनों की निर्माता कंपनियां भाग ले रही हैं।
इस एग्जीविशन महाकुम्भ में दाल मिल एवं फ्लोअर मिल को नई-नई ऊॅंचाई पर ले जाने के लिये यह एग्जीबिशन एक बड़ा मंच होगा। अपनी इण्डस्ट्रीज को बढ़ाने के लिये एग्जीबिशन मील का पत्थर साबित होगा।