Published On : Tue, Jun 15th, 2021

5 महीने में सबसे कम मृत्यु, एक्टिव केस भी घटने लगे

नागपुर: कोरोना वायरस अब कमजोर पड़ने लगा है. एक ओर जहां मृतकों की संख्या कम हो रही है, वहीं दूसरी ओर संक्रमित भी कम मिल रहे हैं. इतना ही नहीं, एक्टिव केसेस कम होने से अब डॉक्टरों ने भी राहत की सांस ली है. लेकिन खतरा अब भी टला नहीं है. बारिश के दिनों में संक्रमण तेजी से फैलता है. यही वजह है कि डॉक्टरों ने सावधान और सतर्क रहने की अपील की है. इस बीच पिछले 5 महीने के भीतर सबसे कम 3 मरीजों की मृत्यु हुई है.

हाहाकार मचाने के बाद अब कोरोना का नया स्ट्रेन शांत होने लगा है. सोमवार को केवल 3 मरीजों की मौत हुई. इनमें सिटी का एक और अन्य जिले के 2 मरीजों का समावेश रहा. पिछले वर्ष मार्च से लेकर अब तक कुल 9,007 लोगों की जान चली गई. वहीं 30 नये पॉजिटिव मरीज मिले है. इसके साथ ही जिले में कुल 4,76,445 संक्रमित हो गये हैं. फिलहाल जिले में 1,770 एक्टिव केस हैं. इनमें अधिकांश मरीज होम आइसोलेशन में उपचार ले रहे हैं. इस बीच 193 मरीज ठीक हुए. रिकवरी रेट 97 फीसदी हो गया है.

बारिश में सावधानी जरूरी
बारिश शुरू होने के साथ ही विविध तरह का संक्रमण भी तेज हो जाता है. डॉक्टरों का कहना है कि इस सीजन में सर्दी, जुकाम, गेस्ट्रो और पीलिया जैसी बीमारी आम हो जाती हैं. वहीं मलेरिया और डेंगू के भी मरीज बढ़ जाते हैं. इस हालत में किसी भी बीमारी को मामूली समझना ठीक नहीं होगा. विशेषज्ञों की सलाह पर औषधोपचार किया जाना चाहिए. मनमर्जी के डॉक्टर बनने का समय नहीं है. बारिश में भीगने से परहेज करना स्वास्थ्य के लिए उपयुक्त होगा. भीगने से अक्सर इंफेक्शन फैलता है. वहीं जुकाम भी हो जाता है. खानपान पर विशेष ध्यान देना आवश्यक है.