Published On : Wed, May 12th, 2021

महाराष्ट्र में 15 दिन और बढ़ सकता है ‘लॉकडाउन’ काबू में नहीं आ रहे है मामले

कोरोना टीके की उपलब्धता को लेकर केंद्र और राज्य सरकारों के बीच खींचतान जारी है। दिल्ली सरकार और केंद्र ने मई महीने के टीके को लेकर विरोधाभासी आंकड़ा दिया है। दिल्ली सरकार का कहना है कि उसके पास कोरोना टीके की कमी हो गई है और केंद्र सरकार ने यदि वैक्सीन उपलब्ध नहीं कराई तो उसे अपने कई केंद्रों को बंद करना पड़ सकता है। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का कहना है कि राज्य सरकार केंद्र से और टीके देने की मांग कर रही है लेकिन अभी तक वैक्सीन मिली नहीं है। ऐसे में यदि यही स्थिति बनी रही तो टीकाकरण केंद्रों को बंद करना पड़ सकता है।

20 मई के बाद कोविशिल्ड की 1.5 करोड़ खुराक देने का वादा
महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि कैबिनेट की बैठक में, स्वास्थ्य विभाग और मंत्रियों ने 15 दिनों के लिए लॉकडाउन का विस्तार करने का प्रस्ताव दिया। इस मामले पर अंतिम फैसला मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे करेंगे, उन्होंने आगे कहा कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने मुख्यमंत्री को 20 मई के बाद कोविशिल्ड की 1.5 करोड़ खुराक देने का वादा किया है। हम टीका प्राप्त करने के बाद 18-44 आयु वर्ग के लिए टीकाकरण शुरू करेंगे।

Advertisement

“सबसे पहले जिनको दूसरी डोज मिलनी है उसे वैक्सीन मिले”
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने आठ प्रदेशों के साथ बैठक की है, इस बैठक में हर्षवर्धन के साथ जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, हरियाणा, पंजाब, बिहार, झारखंड, ओडिशा और तेलंगाना के स्वास्थ्य मंत्री शामिल हुए। बैठक में स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि 15 दिनों पहले राज्यों को वैक्सीन की उपलब्धता के बारे में बता दिया जाएगा, वैक्सीन की उपलब्धता धीरे-धीरे बढ़ेगी ऐसी उम्मीद लगाई जा रही है, सबसे पहले जिनको दूसरी डोज मिलनी है उसे वैक्सीन मिले ताकि उनका वैक्सीनेशन अधूरा नहीं रह जाए।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement