Published On : Fri, Dec 1st, 2017

गुजरात चुनाव में शहर के स्थानीय नेता भी अपने दल के लिए कर रहे प्रचार

अतुल लोंडे, हर्षवर्धन सपकाल, डॉ मिलिंद माने, विशाल मुत्तेमवार

नागपुर: गुजरात चुनाव प्रचार में राज्य से बीजेपी और कांग्रेस पार्टी के नेता सक्रिय भूमिका निभा रहे है। गुजरात में होने जा रहे विधानसभा चुनाव कांग्रेस और बीजेपी दोनों के लिए ही नाक की लड़ाई बन चुका है इसलिए कोई भी दल प्रचार में किसी तरह की कोताही नहीं बरतना चाहता। बीजेपी जाती आधारित वोटों को अपनी ओर खींचने के लिए बाकायदा दूसरे राज्यों के खास जाती के जनप्रतिनिधियों को चुनाव प्रचार में उतार रही है।

उत्तर नागपुर से बीजेपी विधायक डॉ मिलिंद माने एक दौर के चुनाव प्रचार को निपटा चुके है उन्हें दूसरी बार वापस पार्टी द्वारा गुजरात भेजा जा रहा है। माने के जिम्मे सुरेंद्रनगर जिले की वडभान सीट में प्रचार का जिम्मा दिया गया है। इसके अलावा राज्य के सामाजिक न्याय मंत्री राजकुमार बड़ोले, विधायक नाना श्यामकुले, एड रामचद्र अवसरे, सुधीर पारवे को भी प्रचार की जिम्मेदारी सौंपी गयी है। राज्य में भेजे गए इन सभी नेताओं के ज़िम्मे एक – एक सीट दी गयी है। यह सभी कई दिनों तक गुजरात में रहकर प्रचारकार्य में जुटे है।

दूसरी तरफ कांग्रेस द्वारा भी राज्य के नेताओं को भी अहम जिम्मेदारियों के साथ पार्टी ने गुजरात में नियुक्त किया है। नागपुर से आनेवाले पार्टी के राज्य प्रवक्ता अतुल लोंडे को राज्य के अहम शहर सूरत का ऑब्जर्वर बनाया गया है जबकि बुलढाणा से आने वाले वरिष्ठ नेता हर्षवर्धन सपकाल को दक्षिण गुजरात के चुनाव निरीक्षक पद की जिम्मेदारी दी गयी है। आने वाले दिनों में शहर से ही आने वाले पार्टी के युवा नेता विशाल मुत्तेमवार को भी चुनाव प्रचार के लिए भेजा जा सकता है।