Published On : Wed, Feb 25th, 2015

अमरावती : वकीलों का कामबंद आंदोलन

Advertisement


एड पानसरे की हत्या का निषेध

25 Vakil
अमरावती। कॉम्रेड एड. गोविंद पानसरे कोल्हापुर के जिला न्यायालय के सीनियर अधिवक्ता थे, जिन पर सरेआम गोलीबारी कर निर्मम हत्या कर दी गई. इन हत्यारों को तत्काल पकडऩे व उन्हें कड़ी सजा देने की मांग करते हुये बुधवार को राज्य भर में वकीलों ने घटना के निषेधार्थ काम बंद आंदोलन किया. इस क्रम में अमरावती शहर व जिले में 1600 वकीलों ने काम बंद आंदोलन में सक्रिय रुप से सहभाग लिया. हालांकि सभी अदालतें शुरु थी, वहीं पक्षकार भी उपस्थित थे, लेकिन वकीलों व्दारा कोर्ट में हाजिर ना होने से कामकाज ठप रहा.

मानवता को कालीख पोतने वाली घटना
बुधवार की दोपहर वकीलों के प्रतिनिधी मंडल ने जिलाधिकारी किरण गित्ते को ज्ञापन दिया. वकील संघ के अध्यक्ष प्रकाश देशमुख ने कहा कि एड पानसरे की हत्या मानवता को कालीख पोतने जैसी है. पानसरे के हत्यारे अभी भी पुलिस गिरफ्त से दूर है. जिन्हें पकडऩे में पुलिस को सफलता नहीं मिल पाई है, इसीलिए महाराष्ट्र बार कान्सील ने इस घटना के निषेधार्थ एक प्रस्ताव पारित कर 25 फरवरी को राज्य भर में काम बंद आंदोलन करने का निर्णय लिया. इस समय वकील संघ के उपाध्यक्ष एड शब्बीर हुसैन, सचिव मधुसुदन माहोरे, शोएब खान, कस्तुबा लवाटे, एड बिजवे, वासुदेव नवलानी, एड खडसे, अनंत विघे, ब्राह्मणे, कंलत्री, श्रध्दा पाटेकर, लक्ष्मी पांगरकर, शहनाज नय्यर, सुनील गजभिजे, अमित गावंडे, अकुंश वानखडे, राहुल डाखोरे, अजय तंतरपाडे, अचल कोल्हे, दीपक अकोडे, शे.खालीक, सिद्दीक खान, परवेज मिर्जा,जावेद आलम, अरशद खान, जुबेर अहमद समेत अन्य थे.

Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement