Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Wed, Oct 10th, 2018

    हंसते- हंसते लोट-पोट हुए दर्शक हास्य कवियों की रचनाओं को सुन

    नागपुर: श्री अग्रसेन मंडल के तत्वावधान में अग्रकुल के आराध्य देव महाराजा श्री अग्रसेन जी की जयंती पर श्री अग्रसेन मंडल की ओर से विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इसी श्रृंखला में डाॅ. वसंतराव देशपांडे हाॅल में ‘हास्य, व्यंग्य व गीतों भरी शाम’ के साथ हास्य कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें कलाकारों ने दर्शकों को हंसते- हंसते लोटपोट होने पर मजबूर कर दिया। कार्यक्रम का उद्घाटन मंडल की अध्यक्ष उर्मिला गौरीशंकर अग्रवाल, नीलेश अग्रवाल, प्रमुख अतिथि अशोक गोयल, शैलेंद्र अग्रवाल, अमित व अनिता अग्रवाल ने किया।

    लाफ्टर किंग जूनियर जानी लीवर ने अपनी मिमिक्री हास्य तथा प्रमुख नेताओं की हुबहू आवाज व मराठी लावणी की जीवंत प्रस्तुति की। काठमांडू के हास्य कवि व लाफ्टर विनर लक्ष्मण नेपाली ने अपनी मार्मिक कविता ‘जब-जब कागज पर लिखा मैंने मां का नाम.., कलम अदब से कह उठी हो गए चारों धाम’ सुनाकर कर विभोर कर दिया। श्रृंगार कवियत्री श्रीमती लता किरण ने‘ रात भर तू ठहर मुसाफिर सवेरा कर ले, दिल की वीरान हवेली में बेसरा कर ले…’ , हास्य कवियत्री संध्या विश्व ने‘ सत्यम शिवम् गंगा जल की धार है बेटी, धरा पर ईश्वर का उपहार है बेटी..’, झांसी के हास्य व्यंग्य गीत व मंच संचालक सुनील समैया ने चुनावी चुटकी लेते हुए कहा के ‘लो आ गए चुनाव की नेता फिर मंडराए, गजब लगाते दांव की नेता फिर मंडराए….’, हास्य व्यंग्य के आगरा के कलाकार धर्मेंद्र सोलंकी ने‘ मेरी धरती मेरा अंबर आंखों में बना लिया है…’ ने सुनाया। कार्यक्रम के संयोजक कैलाश जोगानी, गोपाल मेहाड़िया, गिरीश लिलडिया, रजनी अग्रवाल थे।

    इससे पूर्व ‘मां’ के विविध रूपों का दर्शन कराने वाली करूण नाटिका ‘मां- तेरे रूप अनेक’ का मंचन किया गया। जिसमें बताया गया कि ‘मंा’ शब्द लिखने व बोलने में भले ही छोटा है परंतु इसके अर्थ का दायरा काफी बड़ा है। मां धरती भी है, मां अंबर भी है। मां का स्वरूप गौ माता का भी है और गंगा मां का भी। मां का ममतामयी रूप हर जीवन के हर क्षण में बालक महसूस करता है। वह त्याग की देवी है। नाटिका का उद्घाटन कविता संजय अग्रवाल, अनंतकुमार अग्रवाल, प्रमुख अतिथि नगरसेवक सुनील अग्रवाल, कमलेश जेजानी के हाथों दीप प्रज्वलन कर किया गया। नाटिका की लेखिका व निर्देशिका मीना राजेंद्र सुरेखा थीं। कार्यक्रम की संयोजिका उषाकिरण अग्रवाल, अनुसूया अग्रवाल, मंजू मित्तल, सुनीता डालमिया, लीला अग्रवाल, संध्या अग्रवाल थीं।

    संयोजिका पूनम दिवानका ने बताया कि श्री अग्रसेन भवन, गांधीबाग में विविध स्पर्धाओं का आयोजन किया गया। जिसमें चटनी बनाओ स्पर्धा की संयोजिका ज्योति रामवतार अग्रवाल, सविता अग्रवाल, प्रमिला अग्रवाल थीं। मेरा रोल माॅडल स्पर्धा की संयोजिका कविता अतुल खेमका, कल्पना सत्यनारायण अग्रवाल, निर्मला केड़िया, कौड़ी से गहने बनाओ स्पर्धा की संयोजिका सविता दुर्गाप्रसाद अग्रवाल, अंजू राजेश अग्रवाल, नीता गुप्ता, कान्हा का वनभोज की संयोजिका मिथिलेश अग्रवाल, मंजू गोयल, रजनी संजीव अग्रवाल, प्री वेडिंग शूट की संयोजिका अनिता शिव गुप्ता, मधु पवन अग्रवाल, सुशीला अग्रवाल थीं। महाराजा अग्रसेन का कोलार्ज बनाओ स्पर्धा की संयोजिक विमल केड़िया, विनिता डालमिया, बीना चांदगोठिया, मिरर शो की संयोजिका ममता अग्रवाल, लता अग्रवाल, साधना गणेरीवाला, पुराने ब्लाउज से पोटली बनाओ की संयोजिका किरण पोद्दार, उमा अग्रवाल, सुनीता राजेश अग्रवाल, वाॅक कला की संयोजिका दीपशिखा अग्रवाल, प्रीति अग्रवाल, हीरा अग्रवाल, वास्तविक तीन पीढ़ी एक साथ की संयोजिका पुष्पलता अग्रवाल, शोभा अग्रवाल, उमा अग्रवाल, 20 मिनट सिर्फ मेरे अपने की संयोजिका उषा अग्रवाल, प्रभा अग्रवाल, संजीवनी अग्रवाल थीं।

    कार्यक्रम की सफलतार्थ श्री अग्रसेन जयंती महोत्सव के राखी खेमका, रीना गर्ग, रमा खेमका, सुमेधा चैधरी, सुनीता भारूका, दीपा अग्रवाल, निर्मला गोयनका, रत्ना जेजानी, माया मेहाडिया, दुर्गा देवी अग्रवाल, प्रीति संघी, शोभा गुप्ता, कुमकुम अग्रवाल, तृप्ति अग्रवाल, कुमुद संघी, शारदा अग्रवाल, उषा जैन, पुष्पा अग्रवाल, मोना अग्रवाल, जयश्री अग्रवाल, रेखा भालोटिया, अनुसूया अग्रवाल, पूनम अग्रवाल, अरूण झुनझुनवाला, प्रदीप सत्यनारायण केडिया, गिरीश लिलडिया, शैलेंद्र अग्रवाल, वेणुगोपाल अग्रवाल, विजय लोहिया, सीए संदीप अग्रवाल, सी ए संजय अग्रवाल, दुर्गाप्रसाद अग्रवाल, प्रमोद अग्रवाल, जगदीश हुंडीवाले, लक्ष्मीकांत अग्रवाल, गोपीकृष्ण टिबड़ा, नरेंद्र पचेरीवाला, कैलाश लिलडिया, पवन जालान, प्रल्हाद अग्रवाल, महिला स्वागत समिति, महिला युवा सहसंयोजिकाएं, युवा सहसंयोजक सहित पुरुष स्वागत समिति के सभी अग्रबंधु बढ़चढ़कर अथक प्रयास कर रहे हैं.

    मुख्य कार्यक्रम बुधवार को
    संयोजक कैलाश लिलडिया ने बताया कि अग्रसेन जयंती के उपलक्ष्य पर आज बुधवार को मुख्य समारोह शाम 6 बजे रवि नगर स्थित श्री अग्रसेन भवन में आयोजित किया गया है। जिसमंे मुख्य रूप से मंडल अध्यक्ष उर्मिला गौरीशंकर अग्रवाल, प्रसिद्ध समाजसेवी दिलीप देबुलाल अग्रवाल, रायगड़ के समाजसेवक रामदास अग्रवाल, समाजसेवी संतोष अग्रवाल, नई दिल्ली के अखिल भारतीय अग्रवाल संगठन के राष्ट्रीय चेयरमैन प्रदीप मित्तल उपस्थित रहेंगे। सभी अग्रबंधुओं से अधिक से अधिक संख्या में उपस्थिति की अपील श्री अग्रसेन जयंती महोत्सव ने की है।

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145