Published On : Mon, Jul 26th, 2021

नागपुर शहर के हुडकेश्वर पुलिस स्टेशन को जानिये

भाग 24: हुडकेश्वर पुलिस स्टेशन

हुडकेश्वर पोलिस स्टेशन , नागपुर शहर

नागपुर टुडे : 23 मई, 2009 को सक्करदरा पुलिस स्टेशन को विभाजित करके हुडकेश्वर पुलिस स्टेशन की स्थापना की गई थी । वर्तमान में इस पुलिस स्टेशन का नेतृत्व वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक (पीआई) प्रताप विनायकराव भोसले (2006 बैच) कर रहे है। श्री.भोसले ने अबतक के अपने पुलिसिया जीवन मे अनेक जटिल अपराधों का पर्दाफाश कर कई शातिर अपराधियों को जेल की सलाखों के पीछे पहुचाया है स्वभाव से बेहद नम्र, नेकदिल और कानून का सख्ती से पालन करनेवाले पुलिस अधिकारी के रूप में उन्हें जाना-पहचाना जाता है । आज हुडकेश्वर पुलिस स्टेशन में कुल 141पुरुष तथा महिला पुलिस कर्मचारी तैनात है जिसमे 13 पुलिस अधिकारियो का भी समावेश है ।

हुडकेश्वर पुलिस स्टेशन की हद में विहिरगाव से बेसा रोड (पुर्व से पच्छिम ) और तुकडोजी चौक-कनालगाव (उत्तर से दक्षिण ) के बीच का एक बड़ा क्षेत्र शामिल है देखा जाए तो समुचा परिसर करीब १०किमी लंबे-चौड़े दायरे में फैला हुआ है । इस परिसर में लगभग ४ लाख की घनी आबादी बसती है। इसीतरह हुडकेश्वर पुलिस थाने के अंतर्गत विहिरगांव, नरसाला और पिपला- घोगली जैसे 10 गांवों वाली छोटी-बड़ी ग्राम पंचायतें भी आती हैं। जहां आएदिन राजनेतिक गतिविधियां चलती रहती है जिसपर पुलिस का सुक्ष्म ध्यान रहता है ।

हुडकेश्वर पुलिस स्टेशन में कुल पांच बीट शामिल हैं: विहिरगांव बीट (बीट मार्शल – एनपीसी प्रकाश गाडेकर – मोबाइल: 8308525100), हुडकेश्वर बीट (बीट मार्शल – पीसी गगनकुमार हरगुले – मोबाइल: 9021056239), अवधूतनगर बीट (बीट मार्शल – नाइक अतुल बरसकले – मोबाइल: 9823403226) ), पिपला -घोगली बीट (बीट मार्शल – नायक गजानन – मोबाइल: 8888117853) और अयोध्या नगर बीट (बीट मार्शल – नायक प्रवीण आलम – मोबाइल: 9423402746)।

युवा और तेजतर्रार एपीआई स्वप्निल भुजबल (मोबाइल: 8169864439) हुडकेश्वर पुलिस स्टेशन के डीबी दस्ते की कमान संभालते है ।

वरिष्ठ पोलिस निरीक्षक प्रतापराव भोसले, हुडकेश्वर पोलिस स्टेशन , नागपुर शहर


नागपुर टुडे से बात करते हुए, पीआई प्रताप भोसले ने बताया की कैसे उन्होंने हुडकेश्वर पुलिस की हद में स्थित घरों में चोरी, घरफोडी की घटनाओं को रोकने के लिए कई कड़े और पुख्ता उपाय किए हैं जिसकी वजह से फिलहाल ऐसी घटनाओं में काफी कमी आई है । पीआई भोसले ने मा. पुलिस आयुक्त (सीपी), अमितेश कुमार मा. पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) जोन 4 अक्षय शिंदे के निर्देशों के बाद क्षेत्र में कुख्यात अपराधियों के खिलाफ प्रतिबंधक कार्रवाई तेज कर रखी है लिहाजा यह कदम काफी महत्वपूर्ण साबित हुआ है जब से श्री. भोसले ने इस पुलिस स्टेशन का पदभार संभाला है तबसे परिसर में अपराध तथा असामाजिक गतिविधियों में काफी गिरावट आई है।

पिपला घोगली बीट- ( बीट मार्शल- नायक पुलिस कॉन्स्टेबल नाईक गजानन , मोबाईल नंबर -8888117853 )

अवधुत नगर बीट- ( बीट मार्शल- नायक पुलिस कॉन्स्टेबल अतुल बारसकले , मोबाईल नंबर -9823403226 )

श्री. भोसले ने जब इस थाने की कमान संभाली तो सबसे पहले उन्होंने पुलिस और समाज के बीच की खाई को पाटने के लिए अपना निजी मोबाइल नंबर – 9922112246 – स्थानीय लोगों के साथ साझा कर दिया था और उन्हें सलाह भी दी कि किसी भी आपात स्थिति के मामले में या यदि कोई उनसे नागरिक अपराध या अपराधी से संबंधित किसी मामले में कोई गुप्त रहस्य साझा करना चाहता है, तो उन्हें बेझिझक सीधे कॉल कर सकता है । सूचना देनेवाले का नाम हमेशा गोपनीय रखा जायेगा ऐसा आश्वासन भी उन्होंने दिया है। इसीतरह नागरिकगण को सुविधा हो इस बात को ध्यान में रहते हुए कोई भी स्थानीय नागरिक हुडकेश्वर पुलिस से उनके लैंडलाइन नंबर: 0712-270307/6 पर 24 घंटे संपर्क कर सकता है।

अयोध्या नगर बीट- ( बीट मार्शल- नायक पुलिस कॉन्स्टेबल नाईक आलाम , मोबाईल नंबर -9423402746 )

हुडकेश्वर बीट- ( बीट मार्शल- नायक पुलिस कॉन्स्टेबल गगनकुमार हरगुले , मोबाईल नंबर -9021056239 )

क्षेत्र में आपराधिक अनियमितताओं को रोकने के लिए कड़ी निवारक कार्रवाई :
हुडकेश्वर पुलिस थाना क्षेत्राधिकार के तहत पुख्ता और सख्त कानून व्यवस्था की स्थिति को लागू करने के लिए पुलिस ने मा. पुलिस आयुक्त अमितेश कुमार और डीसीपी मा. अक्षय शिंदे की देखरेख में क्षेत्र में रिकॉर्ड अपराधियों, अवैध शराब और जुआ कारोबार के खिलाफ सख्त और कानूनी संगठित कार्रवाई शुरू कर रखी है। हुडकेश्वर पुलिस ने स्थानीय निवासियों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए पांच शातिर और कुख्यात गुंडों को जिले से तड़ीपार कर दिया है। पीआई प्रताप भोसले ने कहा, “हुड़केश्वर पुलिस ने इस साल रिकॉर्ड अपराधियों के खिलाफ 100 से अधिक कड़ी प्रतिबंधक कार्रवाई की है जिसकी वजह से इलाके में शांति का माहौल है और कानून का राज है ।

रोल कॉल- हुडकेश्वर पोलिस स्टेशन के अधिकारी तथा कर्मचारी


हादसों तथा रेत की तस्करी पर अंकुश लगाने के लिए विशेष नाकाबंदी ।
हुडकेश्वर पुलिस थाना क्षेत्राधिकार के तहत बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं और रेत तस्करी वाली गतिविधियों में बड़े पैमाने पर वृद्धि को स्वीकार करते हुए श्री. भोसले ने बताया कि, हम सभी वाहनों की गति को कम करने और भारी वाहनों का निरीक्षण करने के लिए दिन में व्यस्त समय के दौरान दैनिक नाकाबंदी करते हैं। अब तक हमने अवैध रेत तस्करो के खिलाफ 10 बड़ी कार्रवाई की है। इसके अलावा पुलिस कर्मियों द्वारा 24 घंटे की जा रही रूटिंग पेट्रोलिंग और नाकाबंदी की वजह से ऐसी दुर्घटनाओं को रोकने में हमे बहुत मदद मिली है साथ ही यह सब हमारे वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के मार्गदर्शन से संभव हो पाया है ।

नागरिकों की समस्या सुनते हुवे – वरिष्ठ पोलिस निरीक्षक प्रतापराव भोसले , हुडकेश्वर पोलिस स्टेशन , नागपुर शहर

रूट मार्च – हुडकेश्वर पोलिस स्टेशन के अधिकारी तथा कर्मचारी

स्थानीय बातचीत का महत्व:
इलाके में आएदिन “शांतता मीटिंग्स, मोहल्ला मीटिंग्स और सीनियर सिटीजन मीटिंग्स के अलावा उनकी शिकायतों को सुनने के लिए, हुडकेश्वर पुलिस नागरिकों, स्थानीय नगरसेवकों, सामाजिक कार्यकर्ताओं और व्यापारियों के साथ लगातार बातचीत करना सुनिश्चित करती है ताकि उनके प्रश्नों या तकलीफों को सुनकर जल्द से जल्द उसका निराकरण किया जा सके इसके अलावा हुडकेश्वर पुलिस ने नागरिकों की शिकायतों को सुनकर उसका निपटारा करने के लिए कई व्हाट्सएप ग्रुप बनाए हैं जिसका लाभ पुलिस को मिल रहा है ”पीआई भोसले ने कहा।

विहिरगाव बीट- ( बीट मार्शल- पुलिस कॉन्स्टेबल प्रकाश गाडेकर , मोबाईल नंबर -8308525100 )

हुडकेश्वर पोलिस स्टेशन परिसर का नक्शा

हुडकेश्वर बीट- ( बीट मार्शल- नायक पुलिस कॉन्स्टेबल गगनकुमार , मोबाईल हरगुले मोबाईल नंबर -9021056239 )

हुडकेश्वर पुलिस स्टेशन के डीबी टीम के साथ डीबी इंचार्ज साहाय्यक पुलिस निरीक्षक ( Api) स्वप्निल भुजबळ , मोबाईल नंबर – 8169864439

नागरिकों को उनके क्षेत्रीय पुलिस स्टेशन के बारे में सूचित करने के लिए, नागपुर टुडे एक विशेष श्रृंखला के साथ आया – अपने पुलिस स्टेशन को जानें – आम जनता के लिए पुलिस स्टेशन के बारे में सभी आवश्यक जानकारी को सक्षम करने के लिए। रिपोर्ट में आपको संबंधित पुलिस थानों के पुलिस निरीक्षक, किसी आपात स्थिति में उनसे संपर्क करने के तरीके, क्षेत्र में अधिकारी के भविष्य के लक्ष्यों आदि के बारे में जानकारी मिलेगी।

रविकांत कांबले