Published On : Tue, Feb 11th, 2020

किसान क्रेडिट कार्ड योजना से कर्ज का मिलेगा लाभ : जिलाधिकारी

नागपुर– नागपुर जिले में 1 लाख 55 हजार 850 किसान पीएम किसान योजना के अंतर्गत लाभार्थी होकर, विभिन्न वित्तीय संस्था और बैंक की ओर से कुल 1 लाख 4 हजार 318 किसानो को कर्ज मुहैय्या कराया गया है. किसी भी वित्तीय संस्था और बैंक द्वारा कर्ज न लेनेवाले 51 हजार 532 पीएम योजना के लाभार्थी जिले में है . इन किसानो को कर्ज की योजना देने के लिए विशेष मुहीम शुरू की गई है. इसके अंतर्गत खरीफ की फसल के लिए किसानों को लाभ देने के उद्देश्य से किसान क्रेडिट कार्ड योजना की शुरुवात 8 फरवरी से की गई है. 23 फरवरी तक यह योजना शुरू रहेगी.

इसमें किसान आवेदन कर सकते है. पीएम किसान योजना के तहत लाभ किसानों को दिया जाता है. यह जानकारी मंगलवार 11 फरवरी को आयोजित पत्र परिषद में जिलाधिकारी रविंद्र ठाकरे ने दी. ठाकरे ने बताया की किसानों को केवल सिमित मदद न मिले और ज्यादा समय तक मदद मिले . किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से अगर एक बार उनकी केस हुई तो इसका लाभ वे 5 वर्षो तक उठा पाएंगे . जरुरत के अनुसार वे पैसे निकाल भी सकते है और इसी कार्ड के माध्यम से वे पैसे भर भी सकते है. इसमें 1 लाख कर्ज के लिए किसी तरह का ब्याज नहीं लगेगा . 3 लाख के कर्ज पर 1 प्रतिशत ब्याज लगेगा . इस योजना का लाभ लेने की अपील जिलाधिकारी ने जिले के किसानों से की है. लाभार्थी किसानों की सूचि उनके गांव में ही लगाई जाएगी .

Advertisement

नाबार्ड की मैथिलि कौवे ने इस दौरान जानकारी देते हुए बताया की स्पेशल ड्राइव चल रही है. इसका मुख्य उद्देश्य यह है की सभी किसान लाभर्थियो को किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ मिले . इसमें कृषि विभाग, एनिमल हस्बेंड्री विभाग के अधिकारियो द्वारा हमें जनजागृति करनी है. इसका लाभ लेने के लिए एक सिंपल फॉर्मेट बनाया गया है. जिसमें उन्हें अपनी जमींन से जुडी, और फसल से जुडी जानकारी देनी होगी .

Advertisement

जिलाधिकारी ठाकरे ने कहा की किसी भी बैंक और वित्तीय संस्था में फसल कर्ज नहीं है ऐसे किसानों को पीएम किसान लाभार्थियों को कर्ज प्रोसेसिंग चार्जेस और निरिक्षण खर्च बैंक की तरफ से माफ़ किया जाएगा . पूरा आवेदन आवश्यक कागजातों समेत प्राप्त हुए दिन से 15 दिनों के भीतर किसानों को बैंक की तरफ से किसान क्रेडिट कार्ड योजना के अंतर्गत फसल कर्ज उपलब्ध किया जाएगा . इस दौरान लीड बैंक मैनेजर विजय बैस समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement