Published On : Mon, Nov 24th, 2014

नागपुर : न्याय का विकेंद्रीकरण होना पक्षकारों के हित में – न्या. गवई


सवांदाता / निशांत टाकरखेड़े

Bhumi Pujan by jugde gawai
नागपुर ग्रा.। भारतीय घटना के आधार पर देश के आखरी घटक के नागरिकों, पक्षकारों को न्याय मिले इसके लिए न्यायालय का विकेंद्रीकरण हो जो पक्षकारों के हित में होंगा ऐसा प्रतिपादन मुंबई उच्च न्यायालय नागपुर खंडपीठ के न्यायमूर्ती तथा पालकमूर्ति भूषण आर. गवई ने कलमेश्वर में दिवानी और फौजदारी न्यायालय की नयी इमारत के भूमिपूजन और कोणशीला समारंभ में किया. प्रथम पुलिस दल ने मानवंदना दी.

22 नवंबर को पुराने तहसील इमारत की जगह पर निर्माण किये जाने वाले इमारत भूमिपूजन कार्यक्रम के अध्यक्ष स्थान पर प्रमुख जिला सत्र न्यायाधीश किशोर सोनवणे, प्रमुख अतिथी वि. सुनील केदार, तालुका बार असोशिएशन के अध्यक्ष ताजने, मुंबई उच्च न्यायालय नागपुर खंडपीठ के प्रबंधक राजेंदकर, कलमेश्वर के न्यायाधीश विकास कारमोरे, जिला सरकारी वकील विजय कोल्हे आदि अतिथी उपस्थित थे.

सबसे पहले न.प. हायस्कूल के छात्रों ने अतिथियों को कुमकुम तिलक लगाकर स्वागत किया. प्रास्ताविक से एड. सागर कौटकर ने कलमेश्वर, सावनेर, काटोल, नरखेड तालुका न्यायालय मिलकर कलमेश्वर में विभागीय जिला सत्र न्यायालय स्थापन करे ऐसी मांग की. इस दौरान न्या. गवई के हांथो न्यायालय की जगह कायदे से छुड़ाने के लिए उपविभागीय अधिकारी विनोद, हरकंडे, मुख्यधिकारी, न.प. माधुरी मडावी, कार्यकारी अभियंता प्रदीप खवले, तहसीलदार गजानन पुरके, बांधकाम उपविभागीय अधिकारी सिंधे का सत्कार किया गया. प्रथम न्यायमूर्ति भूषण गवई, न्या. किशोर सोनवणे, वि. सुनील केदार का न्या. विकास कारमोरे, न्या. बेदनकर, एड. ताजने, जेष्ठ पत्रकार चंद्रशेखर श्रीखंडे, ता. पत्रकार संघ के अध्यक्ष योगेश कोरडे आदि का मान्यवरों ने स्वागत-सत्कार किया.

Bhumi Pujan by jugde gawai    (1)
कार्यक्रम में न्या. किशोर सोनवणे ने अपने भाषण में  नए इमारत के निर्माण का शुभारंभ हो रहा है. अच्छे दिन आनेवाले है कहकर 3 करोड़ की निधी से इमारत 1 साल में बनकर तैयार होगी. इस दौरान वि. सुनील केदार, एड. ताजने ने मार्गदर्शन कर इस ऐतिहासिक क्षण की स्वप्नपूर्ति हो रही ऐसा व्यक्त किया. इस ऐतिहासिक कार्यक्रम में कलमेश्वर, सावनेर, काटोल, नरखेड, हिंगणा, उमरखेड, रामटेक, कामठी न्यायालय के न्यायमूर्ति पुलिस उपविभागीय अधिकारी मोरेश्वर आत्राम,  पो.नि.रविंद्र गायकवाड़, ज्येष्ठ और कनिष्ठ वकील, विविध विभाग के अधिकारी गण, नगराध्यक्ष, नगरसेवक, सावनेर-कलमेश्वर, विधि विभाग के कर्मचारी वर्ग समेत गणमान्य व्यक्ती उपस्थित थे. कार्यक्रम का सूत्रसंचालन एड. युवराज बागडे ने किया और आभार प्रदर्शन न्या. विकास कारमोरे ने किया.