Published On : Fri, Feb 6th, 2015

अंजनगांव सुर्जी : चौकीदार दंपति ने की हत्या


एलसीबी ने किया राजफाश

Ajangaon Surji Murder Case
अंजनगांव सुर्जी (अमरावती)। शराब के नशे में घर आकर शारीरिक सुख की मांग करने से संतप्त होकर संजु ईवने व उसकी पत्नी सुनीता ने प्रवीण बाबुसिंग चव्हाण का गला रेंतकर निर्मम हत्या कर दी. सबूत मिटाने के दृष्टिकोन से लाश को कूएं में फेक दिया. यह सनसनीखेच खुलासा आरोपियों से पूछताछ के दौरान सामने आया है. ग्रामीण पुलिस की अपराध शाखा ने इस हत्याकांड की गुत्थी सुलझाकर आरोपी संजय सत्तार ईवने (30) व उसकी पत्नी सुनीता संजय ईवने (26) को हिरासत में लिया है.

पत्नी ने कबूला गुनाह
2 फरवरी की रात भोजन के बाद प्रवीण टहने के लिए बाहर गया था, तभी से वह घर नहीं लौटा था. 4 फरवरी को किशोर अढाऊ के खेत के कुए में उसकी लाश मिली थी. जिसके सिर से खुन निकल रहा था. अंजनगांव सुर्जी पुलिस ने हत्या के तहत मामला दर्ज किया. 2 फरवरी की रात प्रवीण का बडा भाई जब उसे तलाश रहा था, तब उसे तभी संजय, उसकी पत्नी दिखाई दिये थे. जिन्होंने कहा कि कोई शख्स हाथ में चाकु लेकर मारने की धमकी दे रहा है, जिसकी वजह से वह खेत से निकल आ गये. यह बात पूछताछ के दौरान उसके भाई ने बताई थी. पुलिस ने संजय व उसकी पत्नी सुनीता से पूछताछ की. पहले तो दोनों ने इंकार किया, लेकिन बाद में अलग-अलग पूछताछ में सुनीता ने हत्या की बात कबूली.

सिर पर लाठी से वार
संजय मुलताह बैतुल के पिंपरी निवासी है. वह खिराला में मुरलीधर तुरखेडे के खेत में चौकीदारी का काम है. 2 फरवरी को प्रवीण शराब पीकर उनके घर आया. यहां उसने शारीरिक सुख की मांग की, जिसे सुनकर संजय ने लाठी से उसका सिर फोड़ दिया. जिसके पश्चात शर्ट से पति-पत्नी ने उसका गला घोंट दिया. लाश को कंधे पर उठाकर अढाऊ के खेत में ले गये. जहां कुए में लाश फेक दी. एसपी वीरेश प्रभू के मार्गदर्शन में पीआइ एच.हिरडेकर, एपीआइ सुरडकर, राम बासने, प्रदीप कालबाले, शे.शकुर ने कार्रवाई में सहभाग लिया.