Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Tue, Jan 21st, 2020

    आमसभा के प्रति नगरसेवकों में अरुचि

    – २ बार स्थगिती बाद शुरू हुआ कामकाज

    नागपुर : नागपुर मनपा की आमसभा तय समय में शुरू नहीं हो पाई,महापौर को २ दफे कोरम के आभाव में स्थगित करना पड़ा.एकतरफ विभिन्न समस्याओं और मुद्दों पर गंभीरता दिखाते,वहीं दूसरी ओर जब आमसभा में चर्चा करने की बारी आती हैं तो सभागृह में कामकाज खत्म होने तक आते ही रहते हैं। आज भी आमसभा का कामकाज आधा घंटा देरी से शुरू हुई.इस मसले पर वरिष्ठ नगरसेवकों का कहना हैं कि मनपा का कामकाज नियम से ज्यादा परंपरा से चलता हैं,इसलिए वक़्त पर पहुँचने की आदत नहीं रही.

    कुछ नए नगरसेवकों ने महापौर मांग की कि विधानसभा के कामकाज की तर्ज पर आमसभा में उपस्थित प्रश्नों के उत्तर सभी को सार्वजानिक रूप से वितरित करें और विशेषकर कामकाज शुरू रहते प्रश्नकर्ता व महापौर के मध्य से आवाजाही न हो,जिससे कामकाज प्रभावित होती हैं,प्रश्नकर्ता को उचित न्याय नहीं मिल पाता।

    गलत जानकारी देने वालों पर होंगी कार्रवाई
    कांग्रेस के नगरसेवक संदीप सहारे ने मनपा प्रशासन से वर्ष २०१७-१९ के मध्य मनपा मुख्यालय ,जोनल कार्यालयों में मनपा द्वारा आयोजित कार्यक्रमों का खर्च की मांग की थी.इसी दौरान उन्होंने सुचना अधिकार के तहत यह जानकारी की मांग भी की थी.प्रशासन द्वारा दोनों प्रकार के सवालों पर दिए गए लिखित जवाब में भारी अंतर होने की जानकारी महापौर को दी तो उन्होंने इस मसले पर गंभीरता दिखाते अतिरिक्त आयुक्त को आज के आज जाँच कर दोषी पर कार्रवाई करने और अगली आमसभा में इस मसले का रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिए.

    भोयर के सवाल पर ३१ पूर्व अहम् बैठक
    भाजपा नगरसेवक छोटू भोयर ने जूनी शुक्रवारी,शिवनगर,गणेश नगर,महावीर नगर,चन्दन नगर,हनुमान नगर,सोमवारी क्वार्टर में अल्प समय तक जलापूर्ति किये जाने का मसला उठाया।इस मसले पर महापौर संदीप जोशी ने निर्देश दिया कि ३१ जनवरी के पूर्व उनके कक्ष में इस प्रभाग के सभी नगरसेवकों सह जिम्मेदारी जलापूर्ति विभाग के अधिकारी व ओसीडब्लू के अधिकारियों की बैठक होंगी,जिसमें उपजे मसलों का स्थाई निराकरण किया जाएगा।

    नासुप्र के प्रस्तावों के निपटारा के लिए स्वतंत्र कक्ष
    भाजपा नगरसेवक प्रवीण दटके ने मनपा में नासुप्र का हस्तांतरण बाद उनके कामकाजों को निपटाने के लिए मनपा नगर रचना विभाग के कार्यप्रणाली पर सवाल उठाया।जिसका नगर रचना विभाग प्रमुख गावंडे संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए.तो महापौर ने ३१ जनवरी के पूर्व नासुप्र सम्बन्धी मसलों को सुलझाने के लिए अहम् बैठक लेने की जानकारी दी.इस बैठक में नासुप्र के कामकाज सह उनके कर्मी/अधिकारी को लेकर स्वतंत्र कक्ष की स्थापना की जाने का संकेत महापौर ने दिया।इस बैठक में मनपा और नासुप्र के दिग्गज अधिकारी,मनपा के वरिष्ठ नगरसेवक आदि विशेष रूप से उपस्थित रहेंगे।

    मुद्दत समाप्ति बाद अतिक्रमण कार्रवाई का संकेत
    नगरसेवक मनोज सांगोळे ने कामठी रोड पर स्थित गड्डीगोदाम चौक से लेकर पाटनी ऑटोमोबाइल,एलआईसी चौक पर मेट्रो रेल निर्माण का कार्य जारी हैं,इस मार्ग पर चिन्हित ईमारत निर्माणकार्य में बाधा पहुंचा रही.इस बाधक इमारतों पर कार्रवाई सम्बन्धी मंगलवारी जोन के वार्ड अधिकारी ने बताया कि चिन्हित इमारतों को नोटिस दी गई हैं,मुद्दत समाप्त होते ही अतिक्रमण उन्मूलन किया जाएगा।

    सीएफसी के कम्प्यूटर ऑपरेटर संबंधी आयुक्त निर्णय लें
    पूर्व महापौर प्रवीण दटके ने सवाल किया कि मनपा में एमएससीआइटी प्रमाणपत्र धारक कर्मियों को वेतनवृद्धि दी जा रही लेकिन फिर भी सीएफसी के तहत सैकड़ों प्राइवेट कम्प्यूटर ऑपरेटरों से काम लिया जा रहा.दोनों मामलों पर मनपा का मासिक ९६ लाख रूपए खर्च हो रहा.अर्थात मनपा कर्मी सिर्फ प्रमाणपत्र पेश कर आर्थिक लाभ उठा रहे तो सीएफसी के तहत निजी ऑपरेटरों की आड़ में आपूर्तिकर्ता ठेकेदार मलाई खा रहा.अगर मनपा की जरुरत हो तो ठेकेदारी पद्धति पर मनपा कंप्यूटर ऑपरेटरों की सीधी भर्ती करें।महापौर जोशी ने इस मसले पर आयुक्त स्तर पर निर्णय लेने का निर्देश दिया गया.

    महापौर के अन्य निर्देश
    – अगली सभा में नई ‘डीपी’ निर्माण संबंधी वर्त्तमान स्थिति पेश किया जाए.
    – अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित वार्ड अधिकारी पर भर्ती के लिए पहले एक समिति का गठन करें,फिर सभागृह की मंजूरी बाद साक्षात्कार प्रक्रिया पूर्ण किया जाए.
    – शहर में जलापूर्ति सुचारु ढंग से शुरू रहे इसलिए १० प्रस्तावित पानी की टांकी का निर्माणनिर्माण प्रस्तावित किया गया,इस सन्दर्भ में सम्बंधित क्षेत्रों के नगरसेवकों की सूचनाओं को निराकरण करने का निर्देश महापौर ने आयुक्त को दिया व विषय मंजूर किये जाने की जानकारी दी.
    – महापौर जोशी ने पेंच प्रकल्प से सम्बंधित ३ प्रस्तावों पर अंतिम निर्णय लेने का अधिकार मनपायुक्त को दिया।


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145