Published On : Mon, Mar 30th, 2020

मानसिक रोगियों और दिव्यांगो की मदद कर रही संस्था

कोरोना वायरस से बचाव के लिए कर रहे जनजागरूकता

सौंसर– लॉकडाउन के कारण जनजीवन प्रभावित हुआ है। जीवन यापन की समस्या सामना कर रहे मानसिक रोगियों और दिव्यांगजनों के लिए ग्रामीण आदिवासी समाज विकास संस्थान आगे आयी हैं और विकासखंड के बेसहारा मानसिक रोगियों और दिव्यांजनों के घर जाकर संस्था कार्यकर्ता राशन सामग्री वितरित कर रहे हैं। संस्था प्रमुख श्यामराव धवले ने बताया कि लॉकडाउन के कारण उदर निर्वाह नहीं कर पा रहे संजीवनी मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम से जुड़े हुए मानसिक रोगियों के परिवार और दिव्यांगो को आवश्यक राशन सामग्री और दवाई वितरित की जा रही हैं।

संस्था द्वारा विकासखंड में ग्रामीणों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव और सुरक्षा को लेकर जागरूक उन्हें घर से बाहर नहीं निकलने और सोशल डिस्टन्स बनाकर रहने की सलाह दी जा रही हैं।

जामसांवली हनुमान मंदिर परिसर में अनेक मानसिक रोगी और उनके परिजन खुले आसमान में रह रहे हैं, उनके भोजन और दवाईओ की जवाबदारी संस्था ने ली हैं और इस कार्य मे सौंसर के राजपुरोहित समाज संघठन के’जोगसिंह राजपूत ,गोल्डी ठाकुर सहित शहर के युवाओ ने भी सहयोग कर मंदिर के परिसर और आसपास के 280 परिवारो को राशन सामग्री ,सब्जियां वितरित की। शहर में संतरा मंडी में काम करने वाले महाराष्ट्र के देवलापार के 4 मजदूर पैदल ही अपने घर जाने के निकले थे ,यह जानकरी मिलते संस्था उन्हें रोककर उनके भोजन और रहने की व्यवस्था की।

इस कार्य मे संस्था के विजय धवले ,पंकज शर्मा, प्रकाश गौरखडे ,अक्षय धूंडे ,श्री राम बोबड़े, मयंक ठाकरे ,राहुल यमदे, विजय वनकर सहित सभी कार्यकर्ता और ग्रामदूत सक्रिय हैं।