Published On : Tue, Sep 3rd, 2019

भारतीय शास्त्र विश्व में अव्वल, आवश्यकता हैं कर्मकाण्ड समाप्त हों – घुशे

नागपुर : भारतीय शास्त्र एवं चिकित्सा विश्व में अव्वल हैं, बस आवश्यकता हैं, इसें कर्मकाण्ड सें दूर रखा जाएँ, यह बात कहीं भारत विकास परिषद कें विदर्भ प्रांत अध्यक्ष चंद्रशेखर घुशे नें.

देव पुजा कें लिए उपयोग में लाए जानेंवाली २१ पत्रिओं की प्रदर्शनी कें अौपचारिक उद्घाटन समारोह वें बोल रहें थें.

टेकडी गणेश मंदिर की ओर सें भाविकों कें लिए गणेश पत्री प्रदर्शनी का आयोजन किया हैं. भारत विकास परिषद की दक्षिण-पश्चिमी शाखा एवं पर्यावरण क्षेत्र में कार्यरत निसर्ग विग्यान केंद्र की संयुक्त तत्वावधान में भगवान को और खासकर गणेशजी को अर्पण की जानेंवाली २१ पत्रिओं की प्रदर्शनी टेकडी मंदिर में शुरु हैं.


पहलें ही दिन भाविकों नें प्रदर्शनी को बडीं संख्या में भेंट दी, और उपक्रम की सराहना की. टेकडी मंदिर कें सचिव श्रीराम कुलकर्णी नें इस प्रदर्शनी कें लिए पहल की थी. उन्होनें कहाँ, गणेश पत्री को लेकर जनजागरण हेतु इस प्रदर्शनी का आयोजन था, जो सफल रहा. भाविप के संजय गुलकरी, दिलीप गुलकरी, दिलीप चांद्रायण, मंदार पांडे, कौस्तुभ लुले एवं निसर्ग विग्यान केंद्र कें प्रा विजय घुगे नें प्रदर्शनी की सफलता कें लिए प्रयासरत थें.