Published On : Wed, Mar 7th, 2018

क्रिकेटर शमी की जिंदगी में तूफान, पत्नी ने फेसबुक पर डाले व्हाट्सएप के स्क्रीनशॉट

Hasin Jahan and Mohammad Shammi

नई दिल्ली: टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मो. शमी की निजी जिंदगी में तूफान खड़ा हो गया है. उनकी पत्नी हसीन जहां ने उन पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं. हसीन जहां के फेसबुक पेज पर इससे संबंधित एक पोस्ट भी किया गया है, जिसमें व्हाट्सऐप के स्क्रीन शॉट्स शेयर किए गए हैं. ये स्क्रीन शॉट शमी की दूसरी लड़कियों से हुई चैट के बताए जा रहे हैं.

आरोप है कि शमी दूसरी लड़कियों से अंतरंग चैट करते हैं. हसीन ने साउथ अफ्रीका दौरे से लौटने के बाद शमी द्वारा अपने साथ मारपीट करने का भी आरोप लगाया है. अपने ऊपर लग रहे आरोपों पर मोहम्मद शमी ने ट्विटर पर सफाई दी है.

मो. शमी ने ट्विटर पर लिखा है, ‘हाय, मैं मो. शमी. हमारी पर्सनल लाइफ के बारे में ये जितना भी न्यूज चल रहा है, सब सरासर झूठ है. हमारे खिलाफ कोई बहुत बड़ी साजिश है या मुझे बदनाम करने की कोशिश की जा रही है. मेरा खेल खराब करने की कोशिश भी की जा रही है.’

वैसे मो. शमी और उनकी पत्नी हसीन जहां से जुड़े करीबी पारिवारिक सूत्रों की मानें तो इस दंपति के बीच 3-4 महीने से सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. हसीन जहां के आरोपों में सच्चाई हो सकती है. हालांकि, इस बारे में बात करने के लिए हसीन जहां से कोशिश की गई, लेकिन उनका नंबर लगातार व्यस्त रहा. उनका फेसबुक अकाउंट भी डिएक्टिवेट हो गया है.

मो. शमी अपनी निजी जिंदगी को लेकर कई बार सोशल मीडिया पर निशाने पर आए हैं. वे अपनी पत्नी की फोटो सोशल मीडिया पर शेयर करने की वजह से कट्टरपंथियों के निशाने पर थे. जून 2014 में शमी की शादी कोलकाता की ही रहने वाली हसीन जहां से हुई थी. इनकी एक बेटी आयरा है. शमी की वाइफ हसीन जहां एक मॉडल रह चुकी हैं.

मो. शमी का परिवार कोलकाता में रहता है. पिछले साल उनके घर पर हमला भी हुआ था. वह अपनी बीवी के साथ घर लौट रहे थे. तभी वहां खड़ी एक बाइक को उनके कार से ठोकर लग गई. इसके बाद कुछ स्थानीय लड़कों से शमी के ड्राइवर की बहस हो गई. इसके कुछ देर के बाद बड़ी संख्या में लड़के मो. शमी के घर पहुंच गए और उन्हें धमकियां दीं.

इस घटना के बाद शमी ने कहा था कि वह कोलकाता के साउथ सिटी मॉल के पोद्दारनगर इलाके में पिछले पांच साल से अपनी पत्नी हसीन जहां के साथ रह रहे हैं, लेकिन अब वह वहां असुरक्षित महसूस कर रहे हैं. वह प्रिंस गुलाम मोहम्मद शाह रोड की एक बिल्डिंग की पहली मंजिल पर बने फ्लैट में रहते हैं.

उन्होंने कहा था, ‘हम यहां काफी असुरक्षित महसूस कर रहे हैं. मेरी पत्नी तो इस फ्लैट में रहना भी नहीं चाहती. लेकिन मैं कायर नहीं हूं. मैं यहां से क्यों भागूं? मुझे सबसे ज्यादा ये बात परेशान करती है कि स्थानीय प्रशासन से किसी ने भी आकर मुझसे यह जानने की कोशिश नहीं की कि आखिर घटना के बाद मैं कैसा महसूस कर रहा हूं.’