Published On : Thu, Mar 4th, 2021

भारी बेरोजगारी से जूझ रहा है भारत

नागपुर– दुनिया के सात अजूबे में से एक ताजमहल में आज बम होने की झूठी खबर फैलाई गई. ये झूठी खबर एक युवक ने फोन करके पुलिस को दी. बाद में पता चला कि युवक नौकरी ना मिलने से परेशान था. उसने बताया कि वह काफी समय से सैनिक भर्ती की तैयारी कर रहा था, लेकिन ये भर्ती रद्द कर दी गई. इस घटना के बाद अब देश में एक बार फिर बेरोजगारी को लेकर सरकार पर सवाल खड़े होने लगे हैं. हालांकि विपक्ष समय-समय पर बेरोजगारी को मुद्दा बनाता रहा है. जानिए आज देश में बोरोजगारी कितनी है. क्या कहते हैं आंकड़े?

फरवरी में बेरोजगारी दर 6.9 फीसदी रही
सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (सीएमआईई) के डेटा के मुताबिक, इस साल फरवरी महीने में बेरोजगारी दर अपने उच्चतम स्तर पर दर्ज की गई. फरवरी में देश में बेरोजगारी की दर 6.9 फीसदी रही. यानि 100 में से 6.9 लोग बेरोजगार हैं. अगर पिछले साल (2020) अप्रैल के आंकड़े देखे तो बेरोजगारी दर 23.52 फीसदी दर्ज की गई थी. हालांकि ध्यान देने वाली बात यह है कि तब देश में लॉकडाउन लागू था.

पिछले 12 महीनों में कैसी रही बेरोजदारी दर? (प्रतिशत में)
बता दें कि देश में रोजगार से जुड़ी नेशनल सैम्पल सर्वे ऑफिस (एनएसएसओ) की रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2017-18 में बेरोजगारी दर 45 साल में सबसे ज्यादा 6.1% के स्तर पर पहुंच गई थी. जानिए इससे पहले के सालों में बेरोजगारी दर की स्थिति क्या थी.

श्रम और रोजगार मंत्रालय के मुताबिक-
साल 2013-14 में बेरोजगारी दर- 3.4 फीसदी रही.
साल 2015-16 में बेरोजगारी दर बढ़कर 3.7 फीसदी हो गई.