Published On : Wed, Sep 2nd, 2020

इग्नू ( Ignou ) ने नागपुर क्षेत्र में नए कार्यक्रम किए शुरू

नागपुर- इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक़्त विश्वविद्यालय (इग्नू ) में 200 से अधिक कार्यक्रमों के लिए जुलाई 2020 सत्र के लिए एडमिशन शुरू है. ऑनलाइन एडमिशन और फिर रजिस्ट्रेशन के लिए आवेदन करने की आखरी तारीख 15 सितम्बर 2020 है. एडमिशन ऑनलाइन है और इच्छुक उमेदवार इग्नू पोर्टल https://ignouadmission.samarth.edu.in/ पर आवेदन कर सकते है. रजिस्ट्रेशन के लिए लिंक https://onlinerr.ignou.ac.in/ है. एससी /एसटी समुदाय के इच्छुक शिक्षार्थियों को प्रोत्साहित करने के लिए इग्नू ने जुलाई 2020 सत्र के लिए सर्टिफ़िकेट डिप्लोमा,पीजी डिप्लोमा,बैचलर डिग्री कार्यक्रम में फ़ीस में छूट ( नि.शुल्क ) दे रहा है. इच्छुक छात्रों को नए एडमिशन के लिए ऑनलाइन प्रवेश पत्र जमा करना होगा और पुनः रजिस्ट्रेशन भी ऑनलाइन करना होगा. इस योजना के तहत अनुसूचित जाति /अनुसूचित जनजाति के उमेदवारो के लिए कुल 100 कार्यक्रम उपलब्ध है, जिनमें विदेशी भाषाएँ, आईटी और व्यवसायिक कार्यक्रम शामिल है.

समाज की जरुरत के आधार पर इग्नू हर सत्र में नए कार्यक्रम शुरू करता है. ऐसे कुछ कार्यक्रम इस प्रकार है:

पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन एनिमल वेलफेयर (पीजीडीएडब्ल्यू ) 1 साल का कार्यक्रम है और कोई भी ग्रेजुएट इस कार्यक्रम में प्रवेश के लिए पात्र है. पीजीडीएडब्ल्यू कार्यक्रम में सभी प्रबंधित जानवरों जैसे मवेशी और भैस, भेड़ और बकरी, सुअरों, मुर्गी पालन, काम, प्रदर्शन,पालतू, चिड़ियाघर और प्रयोगशाला जानवरों के लिए कल्याण विज्ञान, नैतिकता , कानून और मानक आदि विषय शामिल है.

सर्टिफ़िकेट इन सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट (सी.एस.डब्ल्यू.एम ) 6 महीने का कोर्स है , जो कोई भी 10 +2 है, ऐसे छात्रों के लिए खुला है और वह हिंदी माध्यम में दिया जा रहा है. अपशिष्ट प्रबंधन में संग्रह, परिवहन, उपचार, निपटान, रिसाइक्लिंग, अर्थव्यवस्था, निति आधी शामिल है.

पोस्ट ग्रेजुएट सर्टिफिकेट इन क्लाइमेट चेंज ( पीजीसीसीसी ) यह 6 महीने का कोर्स है और कोई भी ग्रेजुएट इस कोर्स को कर सकता है.

बीएससी (ऑनर्स ) बायो केमिस्ट्री के लिए 10 +2 साइंस पास छात्र इस कार्यक्रम में एडमिशन के लिए पात्र है. एमएससी (पर्यावरण विज्ञान ) के लिए कोई भी विज्ञान स्नातक प्रवेश के लिए पात्र है.

सर्टिफ़िकेट इन मोबाइल एप्लीकेशन डेवलपमेंट (सीएमएडी ) 6 महीने का कोर्स है और कोई भी 10 +2 पास / 10वी पास और 2/3 साल का डिप्लोमा समकक्ष छात्र इसमें एडमिशन ले सकता है.

इग्नू सत्रांत परीक्षा : यूजीसी के निर्देशों के अनुसार, इग्नू 17 सितम्बर से अपना अंतिम वर्ष/सेमेस्टर और डिप्लोमा /सर्टिफिकेट के छात्रों के लिए परीक्षा आयोजित कर रहा है. क्षेत्र में, परीक्षाएं नागपुर, अमरावती,चंद्रपुर, नांदेड़, बुलढाणा, वर्धा, गडचिरोली , कुरखेडा, अमरावती सेंट्रल जेल समेत 11 परीक्षा केन्द्रो पर आयोजित की जाएगी. हॉल टिकट कुछ दिनों में इग्नू की वेबसाइट पर उपलब्ध की जाएगी.

इग्नू की ऑनलाइन गतिविधियां : कोविड -19 महामारी के कारण, शैक्षणिक सत्र गंभीर रूप से अव्यवस्थित हुआ है. इस कमी की भरपाई के लिए इग्नू विभिन्न डिजिटल मीडिया का उपयोग कर रहा है. काउंसलिंग सत्र गूगल मीट, झूम , सिस्को, वेबएक्स, फेसबुक, यूट्यूब के माध्यम से आयोजित किए जा रहे है. प्रत्येक रविवार 5 बजे क्षेत्रीय निदेशक द्वारा छात्रों के साथ बातचीत करने के लिए फेसबुक लाइव सत्र भी आयोजित किया जाता है. पुरे भारत के छात्र इस सत्र में भाग लेते है. इग्नू विभिन्न प्री-एडमिशन कॉउंसलिंग सत्र भी आयोजित कर रहा है. नागपुर क्षेत्रीय केंद्र ने हाल ही में ‘ कृषि और पशु विज्ञान में इग्नू के जॉब ओरिएंटेड और स्किल ओरिएंटेड प्रोग्राम्स ” विषय पर एक राष्ट्रीय जागरूकता वेबिनार आयोजित किया है.

इसमें महाराष्ट्र सरकार के पशुपालन आयुक्त (आईएएस ) एस.पी.सिंह मुख्य अतिथि है. उन्होंने महाराष्ट्र में कृषि और पशुपालन की स्थिति और इग्नू की भूमिका पर बात की. डॉ.एम.षणमुगम आरएसडी इग्नू ( नई दिल्ली ) ने उदघाटन भाषण दिया. प्रो.एस.के.यादव , प्रो पी.वी. के ससिधर, प्रो.एम. के सलूजा इग्नू नई दिल्ली ने इग्नू के कार्यक्रमों के बारे में बताया. नागपुर क्षेत्रीय केंद्र के निदेशक डॉ.पी. शिवस्वरूप ने कार्यक्रम का संचालन किया. यह कार्यक्रम यूट्यूब और फेसबुक पर सीधा प्रसारित किया गया है.