Published On : Wed, Nov 15th, 2017

इग्नू ने की वर्धा जिले के वाईफड गांव में अध्ययन केंद्र की शुरुआत


नागपुर: इग्नू ने ग्रामीण भाग में शिक्षा के प्रसार के लिए वर्धा जिले के वाईफड गांव में अध्ययन केंद्र को स्थापित किया है. इस केंद्र में 45 छात्रों ने पहली बैच में प्रवेश लिया है. इसका उद्घाटन हाल ही में इग्नू नई दिल्ली के योजना एवं विकास विभाग के निदेशक प्रो. टी.यू.फुलझेले द्वारा किया गया है. छात्रों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हर नागरिक के लिए शिक्षा बहुत जरूरी है.

इस दौरान नागपुर के इग्नू के क्षेत्रीय निदेशक डॉ.पी. स्वरुप ने कहा कि पढ़ने की इच्छा रखनेवाले सभी को जो अपने स्थान पर रहकर शिक्षा लेना चाहते है उन्हें इग्नू मदद करता है. उन्होंने कुरखेड़ा और एरला गांव के ग्रामीणों जो पढ़ाई का लाभ उठा रहे हैं. इस दौरान सहायक क्षेत्रीय निदेशक डॉ. विकास सिंघल, केंद्र के समन्यवयक प्रशांत वैद्य ने भी ग्रामीणों को संबोधित किया.” ज्ञानगंगा ” जागरुकता बैठकों की शृखंला विदर्भ के विभिन्न गावों में आयोजित की जानेवाले है.


इसके साथ ही इग्नू की ओर से ” ज्ञान गंगा” के अंतर्गत कलमेश्वर तहसील के वलनी गांव में नागपुर जिले के केयर चैरिटेबल ट्रस्ट के सहयोग से बैठक का आयोजन किया गया था. जिसमें बड़ी तादाद में युवाओं ने और गांव की महिलाओं ने बैठक में भाग लिया. इस दौरान उच्च प्राथमिक विद्यालय के मुख्याध्यापक बाबाराव कवरती ने ग्रामीणों को इग्नू की शिक्षा का लाभ लेने की बात कही. इस दौरान नागपुर विश्वविद्यालय के प्राचीन इतिहास विभाग के डॉ. श्याम कोरेटी ने भी ग्रामीणों को मार्गदर्शन किया.