Published On : Fri, Jul 12th, 2019

‘ ‘बिल नहीं तो पैसे नहीं ‘ की मुहीम नागपुर रेलवे में शुरू, सभी खाद्यपदार्थो को अब देना होगा बिल

नागपुर– मध्य रेल के नागपुर विभाग में रेलवे यात्रियों के लिए ‘ बिल नहीं तो पैसे नहीं ‘ मुहीम की शुरुवात की गई है. यात्रियों को खाद्यपदार्थ रेलवे के अधिकृत स्टॉल से लेने पर बिल देना अनिवार्य है. बिल नहीं देने पर यात्रियों को रेलवे ने सूचित किया है कि पैसे न दे.

जो भी खाद्यपदार्थ की कीमत है उसी के अनुसार पैसे दे ज्यादा पैसे न दे. भारत सरकार और रेल मंत्रालय के अंतर्गत यह मुहीम चलाई जा रही है. रेलवे स्टेशन पर यात्रियों से खाद्यपदार्थ बेचनेवाले ज्यादा पैसे लेते है. इसके कारण यह फैसला लिया गया है. रेलवे स्टेशन पर और रेलवे में सफर के दौरान यात्रियों को बिल देना अनिवार्य है.

इस मुहीम के बारे में रेलवे स्टेशन के सभी विक्रेताओ को सूचित किया गया है. यात्रियों को बिल न देनेवाले विक्रेताओ पर कार्रवाई भी की जा रही है. इसके साथ ही ऐसे विक्रेताओ का स्टेशन का रजिस्ट्रेशन भी रद्द किया जाएगा.

इसकी जांच करने के लिए रेलवे विभाग की ओर से एक टीम भी तैयार की गयी है. इस की जानकारी की घोषणा मुख्य रेलवे स्थानपर नागपुर, बल्लारशाह, वर्धा में की जा रही है. यह मुहीम रेलवे के विभागीय व्यवस्थापक सोमेश कुमार और वरिष्ठ वाणिज्य व्यवस्थापक कृष्णाथ पाटिल, विभागीय वाणिज्य व्यवस्थापक विपुल सुसकर के मार्गदर्शन में की जा रही है.