Published On : Tue, Apr 7th, 2015

बुलढाणा : छात्रवृत्ति के लिए जिलाधिकारी कार्यालय के सामने अनशन

Hunger Strike for Scollership
बुलढाणा। शासन की ओर से छात्रवृत्ति प्राप्त होकर भी खामगांव तालुका के सुटाला बुद्रूक में हर्ष स्कुल आॅफ नर्सिंग संस्था ने अभी तक अपने बँक खाते में छात्रवृत्ति जमा नही की है. जिससे उक्त संस्था को छात्रवृत्ति देने का आदेश दिया जाए, इस मांग के लिए शहर के विश्वास नगर की छात्रा प्रिया बोर्डे ने जिलाधिकारी कार्यालय के सामने सोमवार, 6 अप्रैल से अनशन की शुरुवात की है. इस अनशन को विभिन्न  सामाजिक संघटनाओं ने सहयोग किया है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, उक्त छात्रा ने जिलाधिकारी को सौंपे ज्ञापन में कहां गया कि, सन 2012-13 और सन 2013-14 इस वर्ष के लिए खामगाव तालुका के सुटाला बुद्रूक के हर्ष स्कुल आॅफ नर्सिग में प्रवेश लिया. प्रवेश लेते समय संस्था को शैक्षणिक शुल्क के तौर पर 10 हजार रुपये दिए गए. उसके बाद 45 हजार रुपये शुल्क भरा गया. तथा अध्यक्ष और सचिव के बताने पर परीक्षा शुल्क 16 हजार रुपये और पंजीकरण के लिए 2 हजार रुपये संस्था को दिए गए. शासन की ओर से दिए जानेवाली छात्रवृत्ति अर्जी आॅनलाईन भरी गई. इस अर्जी के बाद शासन ने छात्रवृत्ति मंजुर की.

संपुर्ण छात्रवृत्ति 47 हजार 49 रुपये मंजूर हुई. लेकिन संस्था ने बैंक खाते में सिर्फ़ 1 हजार 800 रुपये ही डाले. उक्त संस्था ने प्रिया समेत 9 छात्राओं को फसाया है. इसके लिए 3 फेब्रुवारी 2015 को सहायक आयुक्त विशेष समाज कल्याण बुलढाणा की ओर शिकायत की. इस घटना में समाज कल्याण आयुक्त ने शिकायत का खुलासा करते हुए सन 2012-13 और सन 2013-14 में दो वर्षों की शैक्षणिक फी 90 हजार रुपये हर्ष स्कुल आॅफ नर्सिंग सुटाला तालुका खामगाव की ओर 19 मार्च को पत्र भेजकर प्रिया बोर्डे के खाते में छात्रवृत्ति की रकम डालने के लिए सुचित किया था. फिर भी अभीतक संस्था ने अपने बैंक खाते में छात्रवृत्ति  की रकम नही डाली. जिससे इस प्रकरण की जांच करके छात्रवृत्ति तुरंत दी जाए, इस मांग के लिए प्रिया बोर्डे ने कल से जिलाधिकारी कार्यालय के सामने अनशन शुरू किया है. इस अनशन को विभिन्न सामाजिक संघटनाओं ने सहयोग किया है.