Published On : Tue, Apr 7th, 2015

अकोला : पोते ने की दादा की हत्या, दादी पर भी जानलेवा हमला


अकोला।
तीन पत्नियों वाले दादाजी पर उनकी पहली पत्नी के पोते ने कुल्हाडी से जानलेवा हमला कर दादाजी को मौत के घाट उतार दिया. इतना ही नहीं गुस्साए पोते ने अपनी तीसरे नंबर की दादी को भी नहीं बक्शा उसने दादी पर जानलेवा हमला किया. जिस पर अस्पताल में इलाज चल रहा है. यह घटना रविवार देर रात अमानतपुर ताकोडा में घटी है. इस संदर्भ में अमानतपुर के पुलिस पटेल अमरसिंग लालसिंग भोसले की शिकायत पर आरोपी सचिन वाल्मीक खंडारे के खिलाफ धारा 302, 307 के तहत डाबकी रोड पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है. दोपहर बाद आरोपी को गिरफ्तार किया गया.

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शहर के समीप स्थित अमानतपुर ताकोडा में अकोला मनपा की ओर से कूड़े कचरे से खाद बनाने का कारखाना मंजूर करवाया गया था. जहां कुछ दिन तक अकोला शहर से निकलने वाला कूड़ा ले जाकर उसे अलग-अलग हिस्से में विभाजित कर खाद बनाई जाती थी. इसी कारखाने के समीप 68 वर्षीय गोविंदराव धनुजी मोरे नामक व्यक्ति का परिवार रहता है. गोविंदराव को तीन पत्नियां थी. जिसके कारण उनके परिवार में आए दिन विवाह चलते थे. गोविंदराव की पहली पत्नी उसकी बेटी तथा पोता अमानतपुर में ही रहते हैं. जबकि गोविंदराव की वर्तमान में तिसरी पत्नी 45 वर्षीय आशाबाई अपने पति के साथ गंव में रहती है.

भूमि विवाद को लेकर गोविंदराव तथा उसकी पहली बीवी एवं पोतों में हमेशा तकरार होती थी. बीती रात भी जमीन का झगडा जमकर हुआ. जिससे गुस्साए पोते सचिन खंडारे ने कुल्हाड़ी से दादा गोविंदराव तथा दादी आशाबाई पर वार कर दिया. दादा के सिर पर कुल्हाडी मारे जाने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई. जबकि आशाबाई को रिश्तेदारों ने सर्वोपचार अस्पताल में भर्ती कराया. घटना की खबर मिलते ही परिसर में खलबली मच गई. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पंचनामा करते हुए सचिन खंडारे को गिरफ्तार किया गया. पुलिस मामले की जांच कर रही हैं.

Attemp-to-Murder1

Representational Pic