Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Sun, Nov 4th, 2018

    हुड़केश्वर थाना क्षेत्र में छात्रा के साथ गैंग रेप

    Representational pic

    नागपुर: हुड़केश्वर थाना क्षेत्र में शुक्रवार रात सनसनीखेज वारदात हुई. जबलपुर-हैदराबाद हाईवे पर 2 आरोपियों ने प्रेमी-प्रेमिका को धमकाया. प्रेमी के साथ मारपीट कर उसे भगाया और प्रेमिका के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया. पूरे पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया. क्राइम ब्रांच की टीम काम पर लग गई और 12 घंटे के भीतर ही पुलिस ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. पकड़े गए आरोपियों में खरसोली निवासी अनिल वसंता थेटे (43) और हुड़केश्वर गांव निवासी बाबा रामदास भगत (37) का समावेश है. 19 वर्षीय पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया. पीड़ित युवती अजनी थाना क्षेत्र में रहती है और बी.कॉम के अंतिम वर्ष में पढ़ाई कर रही है. साथ पढ़ने वाले युवक के साथ उसके प्रेम संबंध है.

    शुक्रवार की रात दोनों मोपेड पर घूमते हुए जबलपुर-हैदराबाद हाईवे पर पहुंचे. वहां शिवसाधना लेआउट के पास दोनों बातचीत कर रहे थे. निर्जन स्थान पर झाड़ियों के बीच दोनों को बातचीत करते देख दोनों आरोपी वहां पहुंचे. दोनों ने उनके साथ मारपीट और धमकाना शुरू कर दिया. बाबा युवक के साथ मारपीट करता हुआ उसे दूर तक दौड़ाता ले गया. युवक अपनी मोपेड लेकर वहां से भाग निकला. इसके बाद दोनों आरोपियों ने पीड़िता के साथ गैंग रेप किया. हवस का शिकार बनाने के बाद आरोपी भाग निकले. युवती पास स्थित हिंदुस्तान ढाबे पर पहुंची. प्रेमी युवक मदद मांगने के लिए वहीं गया था. पुलिस को घटना की जानकारी दी गई. खबर मिलते ही पीएसआई नीलेश पुरभे अपने दल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. क्राइम ब्रांच का स्टाफ भी मौके पर पहुंचा. युवती की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया.

    पहले भी प्रेमी जोड़ों को बनाया शिकार
    खबर मिलते ही डीसीपी क्राइम संभाजी कदम हुड़केश्वर पुलिस स्टेशन पहुंचे. उन्होंने क्राइम ब्रांच की सभी टीमों को काम पर लगा दिया. यूनिट 3 ने आसपास के इलाकों में पूछताछ की तो जानकारी मिली कि शुक्रवार रात अनिल थेटे को वहां देखा गया था. परिसर के नागरिकों को जानकारी थी कि अनिल इसके पहले भी इस तरह की हरकत कर चुका है. संदेह के आधार पर पुलिस ने उसे हिरासत में लिया. ठुकाई के बाद उसने तुरंत बाबा के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देने की कबूली दी. पुलिस ने बाबा को भी गिरफ्तार कर लिया.

    डीसीपी कदम और एसीपी संजीव कांबले के मार्गदर्शन में इंस्पेक्टर जग्वेंद्र राजपूत, एपीआई योगेश चौधरी, हेड कांस्टेबल रफीक खान, विट्ठल नासरे, शैलेश पाटिल, अरुण धर्मे, दयाशंकर बिसेंद्रे, राकेश यादव, विकास पाठक, सत्येंद्र यादव और अमोल पड़धन ने कार्रवाई को अंजाम दिया. जानकारी मिली है कि इसी तरह आरोपी आउटर रिंग रोड पर प्रेमी जोड़ों को लूट चुके हैं. बदनामी के डर से किसी ने शिकायत नहीं की. अनिल पर इसके पहले छेड़खानी का मामला दर्ज हो चुका है. इसके पहले वर्ष 2014 में आउटर रिंग रोड पर अफरोज गैंग ने अपना आतंक मचाया था. कलमना थाने में दर्ज मामले में अफरोज गैंग को कुछ दिन पहले ही 20 वर्ष कारावास की सजा सुनाई गई.


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145