Published On : Tue, Aug 1st, 2017

‘खाऊ गल्ली’ में हवाला की मोटी रकम की बंदरबांट

नागपुर : शहर की मशहूर एक खाऊ गल्ली में तब चर्चाओं का बाजार गर्म हो उठा जब एक थानेदार ने अपने साथियों के साथ मिलकर हवाला की एक डील की बंदरबांट कर डाली। लेकिन राज की तरह दफ्न इस मामले का ‘जिन्न’ बाहर आता दिखाई देने लगाम तो संबंधित थानेदार राज को राज बनाए रखने के लिए साथियों पर दबाव बनाने की कोशिश पर उतारू हो गया। लेकिन सूत्रों की माने तो करोड़ों की इस हवाला डीलिंग के मामलो को रफादफा करने के लिए लाखों रुपए की बंटरबांट का भांडा अब फूटने की कगार तक पहुंच चुका है।

नागपुर टुडे से जुड़े विश्वसनीय सूत्रों की माने तो थानेदार को इस हवाला डील की भनक उनके खुफिया सूत्रों से मिली थी। दो दिन पहले मिली इस टिप को लेकर संबंधित थानेदार खाऊ गल्ली की हर गतिविधियों पर पैनी नजर रखने लगे।

जब संबंधित हवाला डील के एजेंट परिसर में आने की सूचना थानेदार को मिली तो वह अपने जूनियर साथियों के साथ इलाके में दबिश देने पहुंच गया। इतने में थीनेदार और उनकी टीम को एक इन्नोवा कार में करीब 3 करोड़ रुपए भी बरामद हुए जो इसी परिसर के प्रतिष्ठित व्यापारी के नाम हवाला किए गए थे। लेकिन इसके बाद सब कुछ वैसा नहीं जैसे होना चाहिए था। काले धन की दुनिया की अंधेरी रात में यह मामला भी दफ्न करने की योजना उसी स्थल पर तैयार की गई।

सूत्र बताते हैं कि इस हवाला रकम को करीब 35 लाख रुपए की मोटी रकम के बदले थानेदार ने छोड़ने का प्लान बनाया। थानेदार ने खुद तो 15 लाख रुपए रखे और बाकी रकम अपने साथियों में बांट दी। ये थानेदार अपने ‘बीट’ से इसी तरह धन उगाही के लिए पहचाना जाने लगा। लेकिन इस मामले की भनक तब तक किसी को नहीं लगी जब तक कुछ पत्रकारों ने थानेदार को इस मामलो को लेकर पूछताछ शुरू नहीं की। लेकिन बाद में सूत्रों से यह भी जानकारी मिली कि थानेदार और उनके बीच डील की जानकारी को छिपाने के सूत्र बंध नहीं पाए। दस दिन घटा यह मामला कोई अपने आप में एकमेव नहीं है। इस थाने के संबंधित ‘खाऊ गल्ली’ में हवाला डीलिंग बड़े पैमाने पर होने की सूचना है। जिसे लेकर खाकी वर्दीवालों की पैनी नजर हवाला ट्रेड पर हमेशा गड़ी रहती है। सूत्रों की माने तो यह मामले आनेवले दिनों में और तूल पकड़ सकता है।