Published On : Sat, Mar 30th, 2019

अस्पताल के कर्मचारी ने साथियों की मदद से लूट लिए पैसे

Advertisement

अस्पताल से बैंक जा रहे पैसों की लूट मामले में 5 गिरफ्तार

नागपुर: शहर पुलिस की क्राइम ब्रांच ने आशा हास्पिटल के कर्मचारी से जबरन 2.20 लाख की लूट के एक और मामले का खुलासा करते हुए 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया. आरोपियों में भोई लाइन, सुफीनगर निवासी मोहम्मद आरिफ गुलाम रसूल (22), सैलाबनगर निवासी मोहम्मद साजिद मोहम्मद सादिक (19), गाडेघाट निवासी मंगेश चरणदास ढोके (38), सैलाबनगर निवासी शेख सज्जु शेख रहीम (22) और मोहम्मद आमिर मोहम्मद अकरम (21) बताये गए हैं.

Advertisement

ज्ञात हो कि कुछ दिन पहले हास्पिटल कर्मचारी दर्जी मोहल्ला निवासी विक्रम वसंत वैद्य से 2.20 लाख रुपये लूट लिए गए थे. यह रकम हास्पिटल की थी, जिसे वह बैंक में जमा कराने जा रहे थे. आरोपियों में मंगेश आशा हास्पिटल में ही नौकरी करता है. उसे अच्छे से पता था कि हास्पिटल का पैसा कब और किस रास्ते से बैंक ले जाया जाता है.

दोस्तों के साथ मिलकर रची साजिश
इसके बाद मंगेश ने अन्य 4 आरोपियों के साथ मिलकर साजिश रची और कामठी स्थित चौधरी हास्पिटल के सामने लूट का प्लान बनाया. वारदात के दिन आरिफ और साजिद दोनों दोपहिया वाहन (एमएच40/ बीआर-4363) पर बैंक में रकम जमा कराने जा रहे विक्रम का पीछा करने लगे. वहीं, सज्जु और आमिर उनके पीछे एक बाइक पर आ रहे थे ताकि उन्हें सूचना दे सके. मौका मिलते ही साजिद ने विक्रम से बैग छीना और आरिफ के साथ फरार हो गया.

मामले की जांच करते हुए क्राइम ब्रांच को गुप्त सूचना मिली कि आरोपियों ने ही इस लूट को अंजाम दिया है. इसके बाद उन्हें हिरासत में लेकर कड़ी पूछताछ की गई तो उन्हें लूट की बात कबूली. उनके पास से लूट के 15,000 रुपये समेत 5 मोबाइल और दोपहिया वाहन समेत कुल 89,000 रुपये का माल जब्त किया गया.

उक्त कार्रवाई डीसीपी नीलेश भरणे, एसीपी सुधीर नंदनवार, पीआई प्रमोद घोंगे, मयूर चौरसिया, संजय मिश्रा, महेन्द्र थोटे, राजेश यादव, मंगेश लांडे, अजय बघेल, प्रशांत लाडे, अरुण चांदने, नामदेव टेकाम, दिनेश चाफलेकर, रवि शाहू, नरेन्द्र ठाकुर, सुनील ठवकर, अनिल बावने, उत्कर्ष राउत, सचिन आंधले, फराज खान, अमोल भक्ते आदि द्वारा पूरी की गई.

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement