Published On : Sat, Jan 14th, 2017

राष्ट्रपिता पर हरियाणा के मंत्री के विवादित बोल, कहा, ‘खादी गाँधी के नाम पर पेटेंट नहीं’


अंबाला:
सूप बोले तो बोले छलनी भी बोले जिसमें सौ-सौ छेद की तर्ज पर हरियाणा सरकार के वरिष्ठ मंत्री एवं अपने वक्तव्यों के लिए हमेशा विवाद में रहने वाले भाजपा नेता अनिल विज ने कहा है कि ‘खादी पर महात्मा गाँधी के नाम का पेटेंट नहीं है, गाँधी का नाम जुड़े रहने से खादी अलोकप्रिय ही हुई, मगर नरेंद्र मोदी का नाम खादी से जुड़ने के बाद पूरे देश में खादी की माँग बढ़ी है और बिक्री में 14 फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है।’

उल्लेखनीय है कि भारत सरकार के खादी ग्रामोद्योग की ओर से जारी नव-वर्ष के कैलेंडर में महात्मा गांधी की जगह नरेंद्र मोदी की चरखा चलाते हुए तस्वीर आवरण पर छापी गई है, जिसकी देश के हर तबके में आलोचना हो रही है। अनिल विज ने आज बयान देकर इस मामले को और तूल दे दिया है।

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री विज ने शनिवार को कहा कि महात्मा गांधी का नाम खादी से जुड़ने के कारण इसकी दुर्गति हुई। एक सवाल के जवाब में अनिल विज ने कहा कि भारत की मुद्रा से भी महात्मा गाँधी की तस्वीरों को हटाया जाएगा, क्योंकि गाँधी जी के चेहरे के वजह से हमारी मुद्रा का इतना अवमूल्यन हुआ है। उनका तो यहाँ तक दावा रहा कि आगामी एक-दो साल में ही भारत की सभी मुद्राओं से महात्मा गाँधी की तस्वीर हटा दी जाएगी।