Published On : Fri, Jan 3rd, 2020

जीएसटी सेवा केन्द्र व्यापारियों के लिए सेवा का केंद्र है: पी.के.अग्रवाल

नागपुर– टीम कैट नागपुर द्वारा आयोजित विदर्भ स्तरीय व्यापारी सम्मेलन में बोलते हुए केन्द्रीय जीएसटी के मुख्य आयुक्त पी.के.अग्रवाल ने पदभार संभालने के बाद सार्वजनिक कार्यक्रम में पहली बार बोलते हुए कहा कि मैं करदाताओं का सेवक हू और मैं यह प्रतिज्ञा करता हु कि मैं संग्रह के लिए व्यापारियों की सेवा में उपस्थित हूॅ। उन्होंने कहा की देश को आगे बढाना है अतः उचित कर को समय पर जमा कराएं और आराम से व्यापार करें।

अग्रवाल ने कहा कि मैं व्यापारियों के ऊपर पूर्ण विश्वास रखते हुए कार्य करना चाहता हूँ। उन्होंने प्रधानमंत्री द्वारा ज्ञान संगम कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने जो जो अधिकारियों को हिदायत दी उन सब बातों का खुलासा किया। उन्होंने कहा कि कर संग्रह करना तो यह एक माध्यम है मगर उनका काम करदाताओं को सहुलियत पहुॅंचाना, उनकी बातें सुनना तथा उनके लिए राह निकालना ताकि वह अपना दायित्व निभा सकें यही उनका कार्य है। उन्होने कहा कि आजादी के बाद जीएसटी सबसे बडा कर का सरलीकरण है जो एक देश, एक कर और एक बाजार के सिद्धांत पर चल रहा है। इसमें पूरी पारदर्षिता है तथा सभी करों का एकाकरण है।

Advertisement

हमें लगता होगा कि जीएसटी दो तरीके का है। मगर यह सोच सही नहीं है। जीएसटी एक ही कर है, आपको बिल में आधा-आधा दो जगह बांटना पडता है।.पी.के.अग्रवाल ने कहा कि पूरे विदर्भ के संगठन जब चाहे उनसे मार्गदर्शन ले सकते है। जरूरत पडे तो वह उन्हें बुला भी सकते है।

कॉन्फेडरशन आॅफ आॅल इंडिया ट्रेडर्स, नई दिल्ली के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी.सी. भरतिया ने इस दौरान कहा कि एक व्यापारी सोच रखने वाला अधिकारी जब आता है तो निश्चित रूप से एक अच्छे माहौल में कार्य करना सुलभ हो जाता है। पूरे विदर्भ से जमा हुए व्यापारियों ने अलग-अलग विषयों पर अपनी बातें रखी। व्यापारियों को सरल ब्याज पर कर्ज नहीं मिलने की बात रखी गई। क्रेडिट इनेबल के विवेक वर्मा ने बताया कि कैट के साथ मिलकर उनका संगठन व्यापारियों से सीमित कागज जमा कर के उन्हें कर दिलाने में फायदा पहुॅचाता है। यवतमाल, अकोला, अमरावती, वर्धा, गडचिरोली के सभी जगह के चेंबर आॅफ कॉमर्स के लोगों ने अपनी-अपनी बाते रखी।

इस मौके पर भारती वेब का एक आॅनलाइन मार्केटिंग प्लेटफाॅर्म के मोबाईल ऐप का लॉन्च पी.के.अग्रवाल ने किया गया। निखिल मुंडले ने विस्तार से आॅनलाइन मार्केटिंग तथा आॅनलाइन अपनी दुकानें लगाने के बारे में समझाया। राजेश्वर नेवाल ने हिंदू इकोनामिक फोरम के बारे में विस्तार से बात रखी। किस तरह से हम लोग हमारे व्यापार का विस्तार कर सकते है उसके बारे में बातें रखी। सभी लोगों का स्वागत टीम कैट नागपुर के चेयरमैन गोपाल अग्रवाल ने किया। अध्यक्ष किशोर धाराशिवकर ने अलग-अलग गतिविधियों के बारे में विस्तार से बताया।

अकोला के अशोक डालमिया, नितिन खंडेलवाल, वसंत बाचुका व अन्य लोगों ने अपनी बात रखी। यवतमाल से अरूण भाई पोबारू आदि लोगों ने अपनी विचार रखे। अमरावती से इस कार्यक्रम में प्रमुख रूप से उपस्थित थे आश्विन मेहाडिया अध्यक्ष नाग विदर्भ चेंबर आॅफ काॅमर्स , विष्णुपचेरिवाला अध्यक्ष नागपुर चेंबर आॅफ कॉमर्स, प्रकाश मेहाडिया, हेमंत गांधी पूर्व अध्यक्ष, रामअवतार तोतला सचिव, सचिन पुनियानी कोषाध्यक्ष नाग विदर्भ चैम्बर आॅफ का कॉमर्स, प्रभाकर देशमुख, ज्ञानेश्वर रक्षक, राजकुमार गुप्ता, ज्योती अवस्थी, मधुसुदन त्रिवेदी, सर्णिमा सिन्हा, ज्योती अवस्थी, सतिश बंग, मन्नुभाई सोनी, एस.बी.भुटोलिया, छाया शर्मा , रवि पडगिलवार, रविन्द्र गुप्ता, रमेश उमाटे, सना खान, विनोद गुप्ता, दया भुटोलिया, प्रकाश जैस, अनिल नागपाल आदि मौजूद थे।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

Advertisement
Advertisement
Advertisement