Published On : Sat, Nov 8th, 2014

चंद्रपुर : महिलाओं पर बढ़ रहे अत्याचार थमे : शोभाताई


भद्रावती मामले के आरोपियों को शीघ्र पकड़ें : अवैध टोल नाके बंद हो   


Vidhayak Shobha Fadanvis
चंद्रपुर।
पूरे ज़िले में 6 दिनों में महिलाओं पर हुए अत्याचारों की 3 घटनाओं से आम महिलाएं सहम उठी. ज़िले में बढ़ रही बलात्कार, विनयभंग, हुण्डाबली जैसी घटनाएँ आम होती जा रही है. वहीं पुलिस-प्रशासन इन घटनाओं पर अंकुश नहीं लगा पा रही है, जिससे महिलाएं जहाँ भयभीत हैं वहीं न्याय नहीं मिलने से घोर चिंतित नज़र आ रही हैं. इतना ही नहीं, भद्रवती में एक बालिका को ज़िंदा जला दिए जाने के मामले में थानेदार ने सबूत नष्ट करने की कोशिश की, उस घटना को पुलिस विभाग साधारण जाँच कर मामले को रफादफा करने की कोशिश की. इस प्रकार की व्यवस्था ज़िले में बनी हुई है. इस मामले में उक्त थानेदार को तत्काल निलंबित कर देना चाहिए. यह खुलासा मर्दानी महिला संगठन की अध्यक्ष विधायक शोभाताई फडणवीस ने विश्रामगृह में आयोजित प्रेस वार्ता मैं शुक्रवार को किया. कॉन्फ्रेंस के दौरान उपाध्यक्ष डॉ. रजनी हजारे, शोभाताई पोटदुखे, कुल्लूवार, अंजली घोटकर व संगठन की महिला कार्यकर्ता उंपस्थित थीं.

उन्होंने आगे जानकारी दी कि सम्पूर्ण देश में महिलाओं पर अत्याचार बढ़ रही हैं.कई जगहों में पुलिस न्याय कर रही है. सिर्फ ज़िले की पुलिस इस दिशा में सक्रिय नहीं है. यदि रक्षक ही बन जाय तो फिर सामान्य लोगों न्याय की गुहार किससे करे? उन्होंने उक्त हृदय विदारक घटना की पूरी जानकरी प्रेस के समक्ष बयां कर घटना से सम्बंधित दस्तावेज प्रस्तुत किये और आरोपियों पर शीघ्र कार्रवाई करने की माँग की. उन्होंने पुलिस अधीक्षक, पुलिस आयुक्त व वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात कर महिलाओं के सुरक्षा के पुख्ते इंतज़ाम करने की मांग की.

अवैध टोल नका बंद हो : उन्होंने अवैध टोल नाके को जनता के सिर दर्द करार देते हुए बताया कि ये सरकार द्वारा पदत नहीं हैं. उन्होंने जानकारी दी कि तादाली के एक अवैध नाके को बंद करने के लिए आंदोलन किया था. मगर पुनः शुरू कर दिए गए. टोल नाकों से अब तक 240 करोड़ की वसूली की जा चुकी है. अवैध टोल नाकों को बंद करने के सन्दर्भ में 13 नवम्बर को एमएमआरडी के साथ बैठक किये जाने की भी जानकारी दी.