Published On : Wed, Jul 20th, 2016

शमशान घाटों में धांधली: तोतवानी

गोबरी के पैसे लेकर रसीद देने का मामला उठाया पाटिल ने

Gudhade Patil and Prakash Totwani

Gudhade Patil and Prakash Totwani


नागपुर:
 भाजपा के वरिष्ठ नगरसेवक प्रकाश तोतवानी ने 20 जुलाई को हुई आमसभा में प्रश्न काल के दौरान शमशान घाटों में गरीब परिजन से लूट का मुद्दा उठाकर सबको सकते में ला दिया।

तोतवानी ने सभागृह में जानकारी दी कि मनपा श्मशान घाटों पर लकड़ी, गोबरी, प्रमाणपत्र और गढ्ढा बनाकर मुफ्त में देती है। लेकिन शमशान घाट पर मुफ्त में मिलने वाली लकड़ी को अंतिम संस्कार किये जाने वाले ओटे तक पहुंचाने के लिए 1800 रूपए मांगने की शिकायत मिलने से छुब्ध होकर आमसभा में सवाल उठाया।

तोतवानी ने बताया कि घाट पर मनपा कर्मी कम होने से वहां तैनात गॉर्ड बिना वर्दी के इस प्रकार की अवैध कमाई करने में मदमस्त है। तोतवानी ने उक्त सवाल लिखित रूप से किया लेकिन उन्हें मनपा स्वास्थ्य विभाग ने गुमराहपूर्ण जवाब देकर अपना पल्ला झाड़ना चाहा।

वहीं दूसरी ओर नगरसेवक प्रफुल गुरधे पाटिल ने मामला उठाया कि अम्बाझरी घाट पर गोबरी के लिए 2211 रूपए प्रत्येक से लिए जाते है, और बकायदा रसीद भी दी जाती है। इस पर स्थायी समिति अध्यक्ष बंडू राऊत ने जवाब दिया कि यह शुल्क लकड़ी के लिए है। इसके साथ गोबरी मुफ्त दी जाती है। जब पाटिल सहमत नहीं हुए तो महापौर ने संबंधित विभाग को जांच के निर्देश दिए।

इस गंभीर मुद्दे पर महापौर दटके ने मनपायुक्त को निर्देश दिए कि उक्त मुद्दे पर अतिरिक्त आयुक्त सह प्रश्न कर्ता प्रकाश तोतवानी और प्रफुल गुरधे पाटिल के साथ घाटों का दौर करे। वहीं मामले की जांच कर सुधार और सभी प्रकार की सूचना सभी घाटों पर शीघ्र लगाए।

– राजीव रंजन कुशवाहा