Published On : Fri, Oct 6th, 2017

किसी को नगाड़ा तो किसी को मिली अंगूठी


नागपुर: नागपुर जिले में ग्राम पंचायत चुनाव के लिए प्रचार आज से पूरे शबाब पर शुरू हो गया. इस चुनाव में एक-एक प्रभाग से डेढ़-दो दर्जन उम्मीदवार मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. कल गुरुवार की रात तक उम्मीदवारों को चुनाव चिन्ह वितरित किया गया. इसमें किसी को नगाड़ा तो किसी को अलमारी, बैट, अंगूठी, जग, बैट्समैन, ब्रश आदि चुनाव चिन्ह मिला.

चुनाव चिन्ह वितरण में सभी तहसील कार्यालओं में भीड़ देखते ही बनती थी. दूसरे दिन दोपहर ३ बजे तक नाम वापिस लेने का वक़्त दिया गया था. इस दौरान अपने-अपने कट्टर प्रतिस्पर्धी को बैठाने के लिए कुछ एक को बड़ी सफलता मिली तो अधिकांश असफल रहे.


देश में ग्राम पंचायत चुनाव ही एकमात्र ऐसा चुनाव रह गया जो कोई भी आम नागरिक/इच्छुक लड़ कर अपनी भड़ास निकाल सकता है. शेष सभी चुनाव तो काफी महंगे हो चुके हैं. इसलिए इस चुनाव में गली-गली में उम्मीदवार देखने को मिल जाएंगे. इस चुनाव की महत्ता इतनी होती है कि बड़े-बड़े राजनेता भी अपने स्तर से पूरी तरह सक्रीयता दिखाते हैं. क्योंकि यहां से उभरे जनप्रतिनिधि बड़े-बड़े चुनावों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए सक्षम होते हैं. सबसे खास बात यह होती है कि चुनाव में सभी राष्ट्रीय से लेकर पार्टी की शाखाओं तक पूरी ताक़त से कूदती है लेकिन किसी भी पार्टी का चुनाव चिन्ह का इस्तेमाल नहीं किया जाता है. सभी को चुनाव आयोग द्वारा तय चुनाव चिन्हों में से एक चिन्ह के बल पर चुनाव लड़ना पड़ता है.

इस चुनाव में यह भी देखने को मिलेगा कि ३ बच्चे वाले उम्मीदवार भी चुनावी जंग में किस्तमत आजमा रहे हैं. फ़िलहाल आज से चुनाव प्रचार शुरू हो चुका है. १६ अक्टूबर को मतदान होने वाली हैं, जिसमें औसतन ६० से ७० % मतदान होने की संभावना व्यक्त की जा रही है.