Published On : Thu, Mar 4th, 2021

गोंदिया:बर्थडे पार्टी को लेकर बवाल, रिश्तों का खून

Advertisement

गुस्साए भतीजे ने चाचा के पेट और छाती मैं चाकू घोंपा

गोंदिया: तहसील के रावणवाड़ी थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम खतिया में 3 मार्च बुधवार रात बर्थडे पार्टी चली।
शुभम उर्फ़ बालू डोंगरे नामक युवक के जन्मदिन अवसर पर डीजे बजाया गया और जमकर खाना-पीना चला , इसी दौरान बर्थडे पार्टी में शामिल एक दोस्त ने पड़ोसी चाचा के घर जाकर उसके आंगन में उल्टी कर दी।

Advertisement

बस फिर क्या था दोनों रिश्तेदार पड़ोसी परिवारों के बीच इसी बात को लेकर उलझन हो गई और जिस युवक का बर्थडे था उसने आव देखा ना ताव तथा अपने चाचा सुनील गोपीचंद डोंगरे के पेट और छाती में चाकू से सपासप कर उसकी निर्मम हत्या कर दी तथा मौके से फरार हो गया जिसे अब पुलिस खोज रही है।

बताया जाता है कि आवासीय योजना के तहत शासकीय अनुदान लेकर दोनों परिवारों ने आस- पास में चिपके हुए घर बनाए हैं तथा जमीन के बंटवारे को लेकर पिछले कुछ दिनों से विवाद चल रहा था जिसकी वजह से दोनों परिवारों में पहले से खुन्नस थी जिसकी परिणति इस तरह रिश्तो के कत्ल के रूप में सामने आएगी यह तो किसी ने सोचा भी नहीं था ?

फरार आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस

रावणवाड़ी थाना पुलिस निरीक्षक उमेश पाटिल ने जानकारी देते बताया- घटना 3 मार्च बुधवार रात 9:15 बजे के आसपास ग्राम खातिया में घटित हुई।

आरोपी शुभम उर्फ़ बालू का बर्थडे था जिसमें उसके दोस्त शामिल हुए उनमें से एक ने जाकर पड़ोसी के घर के आंगन में उल्टी कर दी।

जिस पर रेखा सुनील डोंगरे ने आपत्ति व्यक्त की , तथा मजदूरी के काम पर से घर लौटने पर उसने इस बात की जानकारी अपने पति सुनील को दी तथा सुनील यह अपने भतीजे शुभम को समझाने के लिए गया तब दोनों के बीच देर रात बहस हुई और आरोपी चाकू उठा लाया तथा उसने रिश्ते में चाचा लगने वाले सुनील डोंगरे (४५) के पेट और छाती में सपासप वार कर दिए तथा घटनास्थल से फरार हो गया ‌, आरोपी की तलाश पुलिस ने तेज कर दी है इस प्रकरण के संदर्भ फरियादी रेखा सुनील डोंगरे ( 40 , खातिया ) की शिकायत पर फरार आरोपी शुभम उर्फ़ बालू डोंगरे (25 रा.खातिया ) के विरुद्ध धारा 302 हत्या का जुर्म 4 मार्च तड़के दर्ज कर लिया गया है । मृतक के शव का पोस्टमार्टम हो चुका है तथा वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच कर हालात पर नजर बनाए हुए हैं मामले की आगे की जांच पुलिस निरीक्षक उमेश पाटिल कर रहे हैं।

रवि आर्य

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement