Published On : Fri, Jan 31st, 2020

गोंदियाः बेकाबू कार ने राहगीर को कुचला

Advertisement

मॉर्निंग वॉक को निकले राहगीर की सड़क हादसे में मौत

गोंदिया। गोंदिया – बालाघाट राज्य महामार्ग पर आज शुक्रवार ३१ जनवरी के सुबह ६ बजे बंदरटोली इलाके में पेट्रोल पंप के निकट मॉर्निंग वॉक में सुबह की सैर को निकले दयाराम कुशन हरिणखेड़े (६० रा. सावरी) इसे गोंदिया से रावणवाड़ी दिशा की ओर जा रही तेज रफ्तार मारूती स्विफ्ट कार क्र. एमएच. ३६/५१९५ ने बीच रास्ते उड़ा दिया।

Advertisement
Advertisement

हादसा इतना जबरदस्त था कि, तेज रफ्तार कार की चपेट में आकर राहगीर उछलकर बोनट पर गिरा और कार के कांच से जा टकराया, जिससे कार के एक कोने का शीशा भी चटक गया। इस सड़क हादसे में दयाराम हरिणखेड़े की मौके पर ही मृत्यु हो गई। हादसे के बाद दयाराम के साथ मॉर्निंग वॉक को निकले तानुभाऊ बिसेन, दुर्गाप्रसाद मालाधरी, हेमंत बिसेन, योगराज समानिया इन्होंने कार चालक युवक को अपने कब्जे में लेकर उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

चश्मदीदों के मुताबिक सावरी निवासी ५ हम उम्र दोस्त नियमित रूप से रावणवाड़ी के लिए सुबह ५.३० बजे मॉर्निंग वॉक को निकले। पेट्रोल पंप से होकर वे रावणवाड़ी की ओर पैदल रास्ता तय कर रहे थे, इसी दौरान बालाघाट से गोंदिया दिशा की ओर एक ट्रक हेडलाईट जलाकर आ रहा था, मौसम भी थोड़ा धूंध भरा था, लिहाजा हल्के कोहरे की वजह से गोंदिया से रावणवाड़ी दिशा की ओर जा रहे कार चालक को सड़क पर सामने चल रहे व्यक्ति दिखाई नहीं दिए और उसने मॉर्निंग वॉक कर रहे दयाराम हरिणखेड़ेे को उड़ा दिया, सिर के पिछले हिस्से में चोट लगने की वजह से उसकी मौके पर ही मृत्यु हो गई। एक अन्य के पैर में मामूली चोट आयी है, जिसे अस्पताल में उपचार हेतु एम्ब्यूलेंस द्वारा लाया गया है। आरोपी कार चालक के संदर्भ में बताया जाता है कि, वह अपने माता-पिता को आयुर्वेदिक उपचार हेतु ग्राम काटी ले जा रहा था, इसी दौरान सड़क हादसा घटित हो गया। बहरहाल पुलिस ने आरोपी कार चालक को अपनी कस्टडी में लेकर कागजी कार्रवाई शुरू कर दी है।

सड़क पर मौत के यमदूत बनकर दौड़ रहे एैसे तेज रफ्तार वाहनों की वजह से अब सुबह की सैर हेतु पैदल चलना अथवा मॉर्निंग वॉक करना खासा खतरे का सबब बन चुका है।

रवि आर्य

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement