Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Mon, Sep 14th, 2020
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    गोंदिया: हालात चिंताजनक , सिस्टम को जिम्मेदारी से काम करना होगा- देशमुख

    पालक मंत्री बोले- आईसीयू बेड और आक्सीजन बेड का हो उचित नियोजन

    गोंदिया जिले में दिन-प्रतिदिन कोरोना का प्रसार बढ़ता जा रहा है बड़ी संख्या में संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं इसलिए सिस्टम को जिम्मेदारी से काम करना होगा इस तरह के निर्देश पालक मंत्री अनिल देशमुख में दिए।

    श्री देशमुख कलेक्टर ऑफिस में 13 सितंबर के शाम आयोजित कोरोना समीक्षा बैठक के दौरान बोल रहे थे उन्होंने आगे कहा- जिले में पिछले 15 दिनों से करोना कि बढ़ती संख्या को देखते हुए प्रशासन को आईसीयू बेड ओर ऑक्सीजन बेड की सही संख्या का नीति निर्धारण कर उचित नियोजन किया जाना चाहिए , दवाएं और उपकरण उपलब्ध कराने पर ध्यान देना चाहिए ताकि मरीजों को असुविधा ना हो ।

    निजी अस्पतालों में भी आवश्यकता के अनुसार बेड की योजना बनाई जानी चाहिए कोरोना पीड़ितों का अच्छे से इलाज किया जाना चाहिए , संक्रमित रोगियों को नजरअंदाज ना करें , उनकी उचित देखभाल जरूरी है।

    डॉक्टरों के रिक्त पद तत्काल भरे जाएं
    जिला केटीएस , मेडिकल कॉलेज और जिला स्वास्थ्य विभाग में डॉक्टर्स टेक्नीशियन , स्टॉफ की कमी के कारण जो असुविधा उत्पन्न हो रही है इसलिए उसे दूर करने के लिए डॉक्टरों के रिक्तियों को भरने की दिशा में तत्काल कदम उठाए जाने चाहिए ‌‌इस बात के निर्देश पालक मंत्री अनिल देशमुख ने दिए।

    खनिज विभाग के ट्रेजरी फंड से खरीदें एंबुलेंस
    कोरोना कॉल के चलते जिले के सरकारी अस्पतालों में यदि एंबुलेंस की कमी है तो जिला खनिकर्म विभाग के खनिज ट्रेजरी फंड से एंबुलेंस की खरीदी की जानी चाहिए इस बात के निर्देश पालक मंत्री ने देते कहा-होम करंटाइन किए गए रोगियों पर लक्ष्य केंद्रित करें।
    आर्टिफिशियल टेस्ट की संख्या ज्यादा से ज्यादा बढ़ाने पर प्रयास किए जाने चाहिए ,खांसी बुखार होने पर एंटीजन रैपिड टेस्ट करवाना चाहिए।
    कोरोना संक्रमित रोगियों के rtPCR की टेस्ट रिपोर्ट मेडिकल कॉलेज से 24 घंटे के भीतर आनी चाहिए।

    बिना मास्क वालों पर 200 रुपए का जुर्माना ठोकों
    राज्य के गृह मंत्री व जिले के पालकमंत्री देशमुख ने कहा-कोरोना के बारे में नागरिकों के लिए सरकार ने दिशा-निर्देश जारी किए हैं जिसका पालन जनता ने करना चाहिए। नागरिकों को सामाजिक दूरी , बार बार हाथ धोने , मास्क का नियमित उपयोग आदि का पालन करना चाहिए।
    जो नागरिक लापरवाही बरतते हैं और घर से बाहर निकलने पर चेहरे पर मास्क नहीं होता उन पर 200 रुपए का जुर्माना लगाया जाए।

    समीक्षा बैठक में विधायकों ने पूछे प्रश्न’, दिए सुझाव

    समीक्षा बैठक में उपस्थित विधायक विनोद अग्रवाल ने पूछा कि पिछले 15 दिनों में कोरोना संक्रमित रोगियों की संख्या इतनी अधिक क्यों बढ़ गई है ? और गोंदिया तहसील सबसे अधिक प्रभावित क्यों है ?

    शासकीय अस्पतालों में डाक्टर मरीजों की सेवा के लिए उपलब्ध क्यों नहीं हैं ?

    उन्होंने नाराजगी जताई कि रजेगांव के ग्रामीण उप स्वास्थ्य केंद्र पर विजिट करने पर अस्पताल में डॉक्टर ही उपलब्ध नहीं थे।

    विधायक मनोहर चंद्रिकापुरे ने कहा- कोरोना वायरस के बारे में जन जागृति जरूरी है इसलिए नागरिकों के बीच भय पैदा किए बिना परामर्श द्वारा जनता को आश्वस्त किया जाना चाहिए तदहेतु मनोरोग डॉक्टरों की व्यवस्था करके उचित उपाय किए जाने चाहिए।

    पूर्व विधायक राजेंद्र जैन ने कहा- कोरोना सेंटरों में पीड़ितों को उचित सुविधाएं प्रदान की जानी चाहिए ।

    कोरोना महामारी को लेकर लोगों के मन में जो डर बैठ गया है उसे काउंसलिंग के माध्यम से दूर किया जाना चाहिए साथ ही बीमारी से बचाव हेतु नागरिकों को सामाजिक दूरी का उपयोग करने की भी आवश्यकता है।

    समीक्षा बैठक के प्रारंभ में जिला कलेक्टर दीपककुमार मीणा ने जिले में कोरोना की वर्तमान स्थिति पर विस्तृत रिपोर्ट के जरिए जानकारी दी।
    जिला परिषद मुख्य कार्यकारी अधिकारी ए भुवनेश्वरी ने डॉक्टरों को होम क्वॉरेंटाइन के मरीजों की देखभाल के लिए नियुक्त किए जाने पर बल दिया।

    बैठक में मुख्य रूप से स्वास्थ्य विभाग (नागपुर) के सहा.निदेशक डा. रवि धकाते , जिला पुलिस अधीक्षक मंगेश शिंदे , निवासी जिलाधिकारी सुभाष चौधरी ,, डिप्टी कलेक्टर राहुल खांडेभराड , मेडिकल कॉलेज के डीन डा. विनायक रुखमोड़े , जिला शल्य चिकित्सक भूषणकुमार रामटेके , जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. श्याम निमगड़े , जिला नियोजन अधिकारी कावेरी नाखले , अर्जुनी मोरगांव एसडीओ शिल्पा सोनाले , देवरी एसडीओ रविंद्र राठौड़ , शिक्षण अधिकारी (प्राथ.) राजकुमार हिवारे , जिला कृषि अधीक्षक गणेश घोरपड़े , न.प. मुख्याधिकारी करण चौहान , तहसीलदार राजेश भंडारकर , अप्पर तहसीलदार खड़तकर , डॉ. वेद प्रकाश चौरागड़े , डा.संजीव दोड़के , डॉ.नितिन कापसे , आपदा प्रबंधन अधिकारी राजन चौबे उपस्थित थे।

    रवि आर्य


    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145