Published On : Mon, Jun 8th, 2020

गोंदिया: परिवार ने लगाई फटकार तो बेटी ने उठाया खौफनाक कदम

Advertisement

दो सहेलियां कुएं में कूदी , एक की मौत

गोंदिया : इसे विडंबना नहीं तो और क्या कहें कि पिछड़ी और दकियानूसी सोच आज भी समाज के भीतर व्याप्त है कि लड़कियों का रात में निकलना ठीक नहीं है जबकि लड़के चाहें कितनी देर रात बाहर रहें ‌। दादी ,माता -पिता और छोटे भाई की फटकार के बाद ग्राम कवडीटोला निवासी एक 17 वर्षीय बेटी गुस्से में आ गई और वह घर से चली गई फिर उसने पानगांव स्थित कुएं में छलांग लगाकर खुदकुशी कर ली।

Advertisement
Advertisement

घटना रविवार 7 जून के सुबह 6 बजे की बताई जा रही है जानकारी के मुताबिक आमगांव तहसील के ग्राम कवडीटोला की रहने वाली रोशनी नामक युवती यह अपनी सहेली शुभांगी के साथ घर से बाहर गई थी और दोनों सहेलियां देर रात घर लौटी

इस पर घर में मौजूद दादी ने रोशनी को डांट फटकार लगाई कि रात बे-रात लड़कियों का घर से बाहर घूमना ठीक नहीं है ऐसा कहते रोजगार के सिलसिले में नागपुर के कन्हान में ईंट भट्टे पर काम करने वाले रोशनी के माता-पिता को भी घटना की जानकारी दी ।

इस पर माता-पिता ने भी फोन द्वारा रोशनी को समझाते बुझाते डांट फटकार लगाई बस इस बात से क्षुब्ध होकर रोशनी यह ग्राम कवडीटोला से लगे पानगांव परिसर स्थित खेत के कुएं पर पहुंची और छलांग लगा दी जिससे पानी की गहराई में डूबने पर उसकी मृत्यु हो गई।

इस घटना की जानकारी जैसे ही गांव कवडीटोला में पहुंची हर तरफ कोहराम मच गया। रोशनी की मौत के लिए अब मुझसे गांव वाले सवाल- तलब करेंगे यह सोचकर शुभांगी टेंशन में आ गई और उसने मकान परिसर से सटे कुएं में छलांग लगा दी लेकिन मोहल्ले- पड़ोस के लोगों ने तत्काल उसे कुएं से बाहर निकाल लिया इस तरह उसनेे भी आत्महत्या का प्रयास किया जो विफल रहा।

हादसे की जानकारी ग्राम कवडीटोला के तंटामुक्ती अध्यक्ष रविलाल ठाकरे ने ग्राम के पुलिस पाटील विलास मुन्नीलाल साखरे को फोन द्वारा दी।
पानगांव निवासी किसान मोहनसिंह बघेल के खेत में स्थित कुएं में लोहे की गल डालकर शव को बाहर निकाला गया तथा घटना की जानकारी मृत लड़की रोशनी के माता-पिता और सालेकसा थाने को दी गई है।

इस प्रकरण की जांच कर रहे पीएसआई सुनील धनवे ने जानकारी देते बताया- रोशनी अभी बारहवीं की पढ़ाई कर रही थी तथा उसके मन में इस बात का डर बैठ गया था कि माता-पिता अब नागपुर से आएंगे तो उसे खूब डांटेंगे या पिटाई करेंगे ? मृत लड़की रोशनी का पोस्टमार्टम करने के बाद लाश परिजनों को सौंप दी गई है। पुलिस ने मृत लड़की रोशनी के भाई माता-पिता ,दादी का बयान दर्ज कर लिया है।

जिस दूसरी लड़की शुभांगी ने खुदकुशी का प्रयास किया है उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने की वजह से उसके सेहत में सुधार होने के बाद उसका बयान रिकॉर्ड किया जाएगा।

बहरहाल फरियादी पुलिस पाटील विलास साखरे की शिकायत पर धारा 174 , आकस्मिक मौत का मामला दर्ज किया गया है। आगे की जांच सालेकसा थाना प्रभारी राजकुमार डुणगे के मार्गदर्शन में पुलिस उप निरीक्षक सुनील धनवे कर रहे हैं।

रवि आर्य

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement