Published On : Sun, Jun 7th, 2020

गोंदिया: तैराकी का शौक 2 को ले डूबा

वैनगंगा नदी पर नहाने गए थे 3 जिगरी दोस्त , 2 ने गंवाई जान

गोंदिया: अक्सर लोगों को तैराकी का बड़ा शौक होता है बस थोड़ा सा टाइम मिला नहीं कि चले थे तैरने.लेकिन कभी-कभी नदी- झीलों पर यह शौक जानलेवा भी हो सकता है ? तिरोड़ा तहसील के ग्राम कवलेवाड़ा से लगा वैनगंगा नदी तट का इलाका मानसून आते ही पिकनिक का फेवरेट डेस्टिनेशन बन जाता है स्कूल -कॉलेज के युवा यहां समय बिताने आने लगते हैं।

नदी में तैराकी सीखने के शौक के चलते तिरोड़ा तहसील के ग्राम काचेवानी रेलवे कॉलोनी निवासी 3 हमउम्र जिगरी दोस्त 7 जून रविवार की सुबह घर से निकले और कवलेवाड़ा स्थित वैनगंगा नदी पर पहुंचे ‌।

उमंग शिरसागर (उम्र- 16 ) तथा सोनाचल राठौड़ (उम्र- 19 ) यह नदी के पानी की गहराई में उतरे तथा भरत जांभुलकर ( उम्र- 19 ) यह नदी किनारे कपड़े , मोबाइल और सामान की सुरक्षा हेतु बैठा था।

दोनों युवक नदी के भीतर की ओर गए जलस्तर और तेजधार के कारण वे असंतुलित होकर डूबने लगे।


तीसरे बाहर बैठे दोस्त भारत जंभुलकर यह नज़ारा देखा तो अपने शरीर के कपड़े उतार कर वह भी नदी पानी में गया लेकिन तब तक जलस्तर की तेज धारा दोनों युवकों को बहाकर आगे निकल गई थी।

लिहाज़ा भरत ने मोबाइल पर दोनों युवकों के परिजनों को घटना की जानकारी दी जिन्होंने पुलिस को मामले से अवगत कराया, स्थानीय मछुआरों के मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया ओर दोनों युवकों के शव खोज लिए गए।

स्पाट पंचनामा पश्चात लाश शव विच्छेदन हेतु तिरोड़ा के उप जिला अस्पताल भेजी गई जहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिए गए हैं।


एक हफ्ता पहले भी तीनों गए थे तैरने
हमने तिरोड़ा थाने के API सचिन ढ़ोके से बात की- उन्होंने बताया घटना कवलेवाड़ा के वैनगंगा नदी तट पर 7 जून रविवार सुबह 10:30 बजे घटित हुई। तीनों दसवीं में पढ़ते हैं तथा रेलवे कर्मचारियों के बच्चे हैं और काचेवानी के रेलवे कॉलोनी के निवासी हैं।

वैनगंगा नदी पर तैराकी सीखने गए थे कोई कोच वगैरह साथ नहीं था वह खुद होकर गए थे और पिछले हफ्ते भी गए थे इस बार भी उनको तैराकी का शौक चढ़ा उनको लगा अपन तैर जाएंगे ? असल में तैरना पूरा आता नहीं था , उमंग और सोनाचल यह नदी में उतरे और आगे निकल गए जहां पानी बहुत गहरा था और बहाव तेज तो वे दोनों डूबने लगे तीसरा जो बाहर था वह कपड़े निकाल कर जा रहा था अंदर पानी में तब तक , तेज जलधारा दोनों को आगे बहा ले गई तो उसने परिजनों को मोबाइल पर सूचना दी।

शव निकाल लिए गए हैं , आकस्मिक मौत का मामला धारा 174 के तहत फरियादी- रामदास क्षिरसागर की शिकायत पर दर्ज किया गया है , मामले की जांच पुलिस हवलदार चैटुले कर रहे हैं।

रवि आर्य