Published On : Fri, Mar 5th, 2021

गोंदिया: संदिग्ध बम मिलने से हड़कंप

टीबी टोली में साईं मंदिर निकट मिला बम ,बीडीडीएस पथक ने किया डिफ्यूज

गोंदिया शहर के टीबी टोली के विद्यानगर इलाके में साईं मंदिर के पास 3 मार्च बुधवार सुबह 9 बजे बम की सूचना मिलने से हड़कंप मच गया जिसके बाद वरिष्ठ आला पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर बम की जांच करनी शुरू की साथ ही बीडीडीएस पथक को सूचना दी गई चश्मदीदों के मुताबिक इस दौरान इलाके में काफी सतर्कता बरती जा रही थी तथा विस्फोटक मिलने के बाद मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था और कड़ी कर दी गई थी।

बताया जाता है किसी अज्ञात सिरफिरे शख्स ने सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने तथा जान मालकियत को हानि पहुंचाने के उद्देश्य से इस संदिग्ध बम को टीबी टोली विद्यानगर के साईं मंदिर निकट छुपा रखा था जिसकी वक्त रहते हैं पुलिस को मंदिर कमेटी की ओर से सूचना दी गई।

इलाके को दहलाने के उद्देश्य से बम रखे जाने की खबर मिलते ही जिला पुलिस प्रशासन हरकत में आ गया ।
घटनास्थल का मुआयना करने के बाद सुरक्षा उपकरणों से लैस बीडीडीएस पथक ने संदिग्ध बम के लाल और काले रंग की वायर को सावधानीपूर्वक काटकर बम को डिफ्यूज कर दिया।

संदिग्ध बम के निष्क्रिय होने के बाद घटनास्थल का पंचनामा तैयार करते हुए अब इस प्रकरण के संदर्भ में रामनगर पुलिस थाने में फरियादी पुलिस निरीक्षक प्रमोद घोंगे की शिकायत पर अज्ञात सिरफिरे आरोपी के खिलाफ धारा 4 ,5 भारतीय विस्फोटक पदार्थ कायदा अधिनियम के तहत जुर्म दर्ज किया गया है।

गौरतलब है कि अज्ञात सिरफिरे शख्स की तलाश हेतू पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों से सुराग खंगालने में जुटी है ।

बहरहाल मामले की जांच जिला पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे के मार्गदर्शन में एलसीबी पुलिस निरीक्षक बबन आव्हाड़ कर रहे हैं।
बरामद विस्फोटक को जांच हेतु प्रयोगशाला भेजा गया है-प्रमोद घोंगे

नागपुर टुडे ने इस संदर्भ में रामनगर थाने के पुलिस निरीक्षक प्रमोद घोंगे से बात की – उन्होंने जानकारी देते बताया – बरामद संदिग्ध बम लगभग 4 इंच बाय 2 इंच के साइज के आसपास का था , अज्ञात के विरुद्ध ऑफेंस रजिस्टर्ड किया गया है तथा बरामद विस्फोटक को जांच हेतु प्रयोगशाला भेजा गया है।

संदिग्ध बम में अमोनियम नाइट्रेट जैसा ज्वलनशील विस्फोटक पदार्थ नहीं था बल्कि पटाखों में जो बारूद यूज़ होता है उस तरह के मटेरियल जैसा दिखाई दे रहा था यह एक बड़ा सुतली बम था जिसमें एलईडी बल्ब के साथ लाल और काले रंग का वायर लगा हुआ था लेकिन कोई सर्किट दिया हुआ नहीं था।

बीडीडीएस पथक को मौके पर बुलाया गया उसने उसे डिफ्यूज किया।

रवि आर्य