Published On : Fri, May 27th, 2022
nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

गोंदिया: सिरफिरे ने लगाई कारों में आग !

Advertisement

किसकी करतूत: सनकी या नशेड़ी तत्व… खोज रही पुलिस ?

गोंदिया। शहर के गंज वार्ड स्थित जयश्री टॉकीज के पास घरों के बाहर पार्किंग में खड़ी कारों में देर रात किसी अज्ञात सिरफिरे ने आग लगा दी और देखते ही देखते कारें जल गई।

Advertisement

कारों से आग की लपटें उठती देख कर स्थानीय लोगों ने पड़ोस में रहने वाले परिवार और दमकल विभाग को सूचना दी , मौके पर पहुंचकर फायर ब्रिगेड टीम ने गाड़ियों में लगी आग पर काबू पाया लेकिन एक कार बुरी तरह जल गई और वहीं एक कार का पीछे का हिस्सा जल गया ।

आग की घटना के बाद परिसर में आक्रोश व्याप्त हो गया , इस आगजनी की वारदात को लेकर पुलिस घटनास्थल व उसके आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज को खंगालने तथा सिरफिरे शख्स की पहचान करने में जुट गई है।

प्रकरण के संदर्भ में जानकारी देते शहर पुलिस ने बताया-
वारदात आज 27 मई शुक्रवार मध्य रात्रि 3:30 बजे के आसपास घटित हुई फरियादी ओवेश अकरम सोलंकी (चांदनी चौक, तेली लाइन ) के शिकायत पर मामला दर्ज कर पुलिस जांच में जुटी है। पुलिस ने बताया- फरियादी के परिवार के सदस्य वाहिद अमीन सोलंकी ( निवासी- चांदनी चौक ) यह राजनंदगांव से देर रात आए और हुंडई कार क्रमांक MH 35 / AR-2538 यह जयश्री टॉकीज के पास स्टूडियो निकट खड़ी की और विश्राम करने चले गए इसी दौरान पड़ोस में रहने वाले नीरज नामक व्यक्ति ने मध्य रात्रि में परिवार के सदस्य सोहेल को बताया सड़क किनारे पार्किंग में खड़ी कारों में आग लगी हुई है जाकर देखा तो उनकी हुंडई कार और कमलकुमार अग्रवाल (गंज वार्ड , कुड़वा लाइन ) के मालकीयत की i10 माडल की कार MH 35/ P-1326 में आग लगी हुई थी, और दोनों कारें जल रही थी।

फायर ब्रिगेड ने आग बुझाई लेकिन फरियादी की कार इस दौरान बुरी तरह से जल गई जिससे उसका 6 लाख 50 हजार का आर्थिक नुकसान हुआ है।
पुलिस इस बात की जांच पड़ताल कर रही है के कार के बाजू में रखें कचरे के ढेर में किसी ने जलती बीड़ी सिगरेट तो नहीं फेंकी ? या फिर यह किसी की शरारत तो नहीं ?

लिहाज़ा आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को खंगाला जा रहा है।

नागपुर टुडे ने घटनास्थल को भेंट दी, चर्चा के दौरान गंज वार्ड इलाके के बाशिंदों ने बताया दशकों से बंद जयश्री टॉकीज की सुनसान गली में देर रात तक गांजा पीने वाले नशेड़ियों का डेरा रहता है हो सकता है यह किसी की शरारत हो, पुलिस ने आरोपियों की धरपकड़ करते हुए इस इलाके में रात्रि गश्त तेज करनी चाहिए।

रवि आर्य

Advertisement

Advertisement
Advertisement
 

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement