Published On : Sat, May 23rd, 2020

Video: गोंदिया रेलवे स्टेशन पर प्रवासी मजदूरों ने मचाई मिनरल वाटर बोतल भरे पैकेट की लूट

RPF, GRP,कैंटीन ठेकेदार चुप: FIR नहीं

गोंदिया रेलवे स्टेशन पर रेल नीर पानी बोतल भरे पॉलीथिन पैकेट श्रमिक स्पेशल ट्रेन में सवार प्रवासी मजदूर उठा ले गए और सारा अमला तमाशबीनों की तरह ताकता रह गया।

आज 23 मई शनिवार को दोपहर 12: 43 पर जब इस पानी के लूट की घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो रेलवे प्रशासन और पुलिस विभाग बगले झांकना नजर आए ।

ऐसे में अब सवाल यह उठता है कि प्लेटफार्म पर मची इस पानी की लूट के वक्त रेलवे पुलिस कहां थी ? और 19 मई की घटना की रिपोर्ट 23 मई तक संबंधितों के खिलाफ दर्ज क्यों नहीं की गई ?

वाकया कुछ यूं है कि- मुंबई , पुणे , दिल्ली, अहमदाबाद जैसे शहरों से बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर छत्तीसगढ़, बिहार , झारखंड, उड़ीसा, बंगाल अपने घरों के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेनों में सवार होकर लौट रहे हैं और गोंदिया स्टेशन पर प्रतिदिन 8 से 10 श्रमिक स्पेशल गाड़ियां पहुंच रही हैं ‌।
इस घटित प्रकरण पर एस.एस रेलवे कमर्शियल गोंदिया के मुकेश कुमार ने प्रतिक्रिया देते कहा-वहां से जैसे प्रोग्राम आता है उस हिसाब से सुबह में ट्रेन पहुंचा तो-ब्रेड केला अचार पानी बोतल , दोपहर में – बिरयानी और पानी बोतल तथा शाम को मिक्चर पैकेट भेलपुरी पानी बोतल इस तरह दिया जा रहा है।

घटना 19 मई की है उस गाड़ी में कोई प्रोग्राम था नहीं , इसलिए वहां कोई रेलवे का आदमी नहीं था और वह लोग एक झिल्ली में 12 पानी बोतल रहती है ऐसे 50-60 पॉलिथीन पैकेट उठा ले गया लेकिन ठेकेदार ने कोई अब तक f.i.r. नहीं की है।

इस घटनाक्रम पर सोपान रेस्टोरेंट के मैनेजर संदीप बाबूराव सहारे ने अपनी प्रतिक्रिया देते कहा-जो श्रमिक गाड़ी आ रही है उसमें सवार प्रवासियों को न खाना मिल रहा है, न समय पर पानी मिल रहा है हम लोग जब भी खाना बांटते हैं तो कभी कबार लूटमार हो जाती है ?
पानी जो है वह तो पब्लिक की भूख है , उसे तो हम कभी मिटा ही नहीं सकते ? अब 19 मई की दोपहर गाड़ी प्लेटफार्म नंबर -1 पर रुकी होगी तो ट्रेन में सवार प्रवासी मजदूर उतरकर सीढ़ी के नीचे रखा 60- 70 नीर मिनरल वाटर बोतल भरे पॉलीथिन पैकेट पैकेट ले गए होंगे।

हमने गोंदिया रेलवे स्टेशन के टेस्टी फूड के मैनेजर राजू भगत से बात की उन्होंने जानकारी देते बताया-यह वायरल हो रहा वीडियो गोंदिया के रेलवे स्टेशन का है , घटना 19 मई के दोपहर की है जब डायवर्ट श्रमिक एक्सप्रेस ट्रेन प्लेटफार्म नंबर -1 पर आई थी ।

दरअसल इटारसी वाले ठेकेदार को गोंदिया स्टेशन पर सोपान रेस्टोरेंट के नाम से ठेका है ।

ट्रक से आए हुए रेल नीर मिनरल वाटर पानी की बोतल के पॉलीथिन पैकेट , गेट खोल कर उन्होंने सीढ़ी के पास रखे थे वह पानी के पैकेट वहां से ट्रेन में सवार रेलयात्री निकाल ले गए। एक पॉलिथीन में 1 लीटर की 12 मिनिरल्स वाटर की बोतल होती है ऐसे 60 से आसपास पैकेट (पेटी) गायब हो गए।

रवि आर्य