Published On : Tue, Jun 22nd, 2021

गोंदिया: अगले 10 दिनों में हो रबी धान की उठाई और लंबित बोनस राशि का भुगतान, अन्यथा डीएमओ व जिलाधिकारी कार्यालय को ठोकेंगे ताला

गोंदिया/भंडारा: महाविकास आघाड़ी सरकार ने अभी तक धान उत्पादकों को भुगतान की जाने वाली बोनस की राशि प्रदान नहीं की है जिससे भंडारा-गोंदिया जिले सहित पूर्वी विदर्भ में धान उत्पादक किसानों के साथ अन्याय हो रहा है.

वर्तमान में, कृषि कार्यो की शुरूवात हो चुकी है और किसानों को सरकार द्वारा उनके बकाया का भुगतान न करने के कारण उन्हें आर्थिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

अगले दस दिनों में अगर राज्य सरकार द्वारा धान उत्पादकों को बोनस नहीं मिला तो भारतीय जनता पार्टी किसानों के साथ आंदोलन शुरू करते हुए पणन व जिलाधिकारी कार्यालय को ताला ठोकेंगी ऐसी सख्त चेतावनी पूर्व पालकमंत्री व वर्तमान विधायक डॉ. परिणय फुके ने दी है।
उन्होंने इस मामले पर खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल को पत्र भी सौंपा।

डॉ. फुके ने पत्र में कहा कि धान उत्पादकों को अप्रैल में महाराष्ट्र सरकार से उनका बकाया मिलने की उम्मीद थी लेकिन जून के मध्य में अभी तक बोनस नहीं मिला है, इसी तरह अधिकांश किसानों को सरकार द्वारा खरीदे गए धान का पैसा नहीं मिला है। बीज की आपूर्ति सरकार द्वारा की जाती है परंतु अभी भी अनेकों किसानों को उपलब्ध नही हो पाई है नतीजतन, गरीब व आर्थिक रुप से कमजोर किसानों को निजी दुकानों से महंगे बीज खरीदने पड़ रहे हैं। इससे उनका आर्थिक शोषण हो रहा है।

उन्होंने कहा, धान के इस बोनस के परिणामस्वरूप सरकार पर किसानों का 800 करोड़ रुपये बकाया है, एक तरफ सरकार बिजली बिल के बकाया के कारण किसानों का बिजली कनेक्शन काट रही है, वही दूसरी तरफ उनका बोनस नहीं दे रहीं, क्या यही नीति है सरकार की..?

वर्तमान में, खेती कार्य की शुरुवात हो चुकी है, गरीब किसानों को कृषि सम्बंधित वस्तुओं को खरीदने और खेती के लिए पैसे की जरूरत है, पर सरकार मौन है। सरकार द्वारा बोनस का भुगतान न करने के कारण गरीब किसानों के साथ अन्याय हो रहा है. साथ ही खरीफ सीजन शुरू होने के बाद भी सरकार ने अभी तक रबी धान नहीं उठाया है, संकट से गुजर रहे किसानों के जख्म पर ये सरकार नमक रगड़ रही है। सरकार की इन पथभ्रष्ट व अन्यायकारक नीतियों ने किसानों को आत्महत्या की ओर धकेलने का कार्य किया है।

किसानों पर हो रहे इस अन्याय को हम कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे। अत: यदि किसानों के हक के बोनस का तत्काल भुगतान नहीं किया गया तो भंडारा एवं गोंदिया स्थित विपणन कार्यालय तथा जिलाधिकारी कार्यालय पर ताला ठोककर किसानों को न्याय दिलाने अधिकारीयों की कुर्सी नीलाम कर देंगे ऐसी सख्त चेतावनी पूर्व पालकमंत्री व विधायक डॉ. परिणय फुके ने दी है।

रवि आर्य