Published On : Thu, Mar 11th, 2021

गोंदिया: पिस्टल और जिंदा कारतूस बरामद

हथियार की डिलीवरी देने जा रहे 3 युवकों को पुलिस ने दबोचा

गोंदिया: लोकल क्राइम ब्रांच टीम ने पेट्रोलिंग के दौरान शहर के गड्ढाटोली इलाके से बाइक सवार तीन युवकों को गिरफ्तार किया है।

स्थानिक अपराध शाखा दल को गुप्तचर से इस बात की सूचना मिली थी कि गड्ढाटोली (शक्ति चौक) इलाके में बुधवार 10 मार्च की शाम अवैध हथियार की 50 हजार रुपए में डिलीवरी होने वाली है ।
मुखबिर से मिली सूचना के बाद जिला पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे के मार्गदर्शन तथा एलसीबी पुलिस निरीक्षक बबन आव्हाड़ के नेतृत्व में कार्रवाई हेतु टीम रवाना हुई।
गश्ती के दौरान बिना नंबर प्लेट की बजाज एवेंजर बाइक पर तीन सवार युवकों को पुलिस ने जाते देखा जिस पर उन्हें रुकने को कहा गया तो वे भागने लगे।

पुलिस को संदेह हुआ तो गश्ती दल ने बाइक को ओवरटेक कर गड्ढाटोली से बजाज हॉस्पिटल जाने वाले मार्ग पर उसे रोका तथा युवकों की तलाशी ली गई तो एक शुभम नामक युवक के पास से सिल्वर रंग की लोडेड पिस्टल बरामद हुई तथा एक स्मार्टफोन भी मिला।

2 अन्य युवकों की तलाशी लेने पर उनके पास से दो मोबाइल बरामद किए गए।

बरामद 7.65 एमएम की पिस्टल सिल्वर रंग की है तथा चाइनीस बताई जाती है और जिंदा कारतूस भी मिले हैं।
हिरासत में लिए गए आरोपियों में एक रविंद्र नामक युवक नागपुर के कामगार कॉलोनी का निवासी बताया जाता है जो अभी गोंदिया के सूर्यटोला इलाके में रह रहा था , शुभम उर्फ दादू नामक युवक गोरेगांव तहसील के सिल्लेगांव का निवासी बताया जाता है जो अभी मौजूदा वक्त में गड्ढाटोली इलाके में रह रहा था ‌, एवेंजर बाइक पप्पू उर्फ उमेश नामक युवक की बताई जाती है जो इस मामले में गिरफ्तार हुआ है।

प्रारंभिक पूछताछ में यह बात सामने आ रही है कि यह पिस्टल कुछ माह पूर्व मृतक एक रेत माफिया से खरीदी गई थी ‌, पैसों की कमी होने पर इस अवैध हथियार की बिक्री का सौदा 50 हजार में तय किया गया था तथा अवैध हथियार की डिलीवरी देने युवक जा रहे थे इसी दौरान उनकी धरपकड़ की गई।

इस छापामार कार्रवाई में स्थानिक अपराध शाखा दल के पुलिस उप निरीक्षक तेजेंद्र मेश्राम , पीएसआई अभिनव शिंदे , एएसआई लिलेंद्र बैस ,पो.हवा राजू मिश्रा , पुलिस नायक उमेश मेहर , रियाज़ शेख , सोमेंद्र तुरकर , सिपाही मुरली पांडे ने हिस्सा लिया। बहरहाल तीनों ही आरोपियों के पास से कुल 1लाख 20 हजार के साहित्य की बरामदगी करते हुए उनके खिलाफ रामनगर थाने में धारा 3 , 25 भारतीय हथियार कायदा 1959 का जुर्म दर्ज किया गया है ।

प्रकरण के आगे की जांच रामनगर थाना प्रभारी प्रमोद घोंगे कर रहे हैं।

रवि आर्य