Published On : Fri, Apr 23rd, 2021

गोंदिया: लोगों ने डॉक्टर्स से संवाद साधा , पैनलिस्ट बोले- जागरूकता से लगेगा कोरोना पर अंकुश

कोरोना पर आधारित निशुल्क स्वास्थ्य सेमिनार को मिला प्रतिसाद

गोंदिया: जिस तरह कोरोना वायरस समूचे विश्व को अपने जद में ले रहा है ऐसे में हर किसी को सावधान रहने की जरूरत है तभी इस वायरस के खिलाफ जंग लड़ी जा सकती है ।

यह नया वायरस है लिहाज़ा इसके लक्षण को समझना बहुत जरूरी है , इसमें घबराने की कोई बात नहीं ? संक्रमित होने पर कैसे धैर्य और सकारात्मक सोच के साथ अपने डॉक्टर्स के ट्रीटमेंट को फॉलो करते हुए कैसे जल्द उपचार की मदद से स्वस्थ हुआ जा सकता है ? और इस कोरोना की रोकथाम कैसे की जा सकती है ? ऐसे ही सावधानी, स्वच्छता और देखभाल को लेकर पूछे गए सवालों के जवाब गुरुवार 22 अप्रैल शाम 6:00 बजे से शाम 7:30 बजे तक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग एप्लीकेशन ज़ूम के जरिए आयोजित जनजागृति मीटिंग के प्रथम सत्र में गोंदिया जिला शल्य चिकित्सक डॉ. अमरीश मोहबे , फिजिशियन (एमडी) डॉ. अपूर्वा कोलते , सर्जन व तज्ज्ञ विशेषज्ञ डॉ. विकास जैन ( गोंदिया आईएमए अध्यक्ष ) , डॉ. संजय भगत , डॉ. पीयूष जायसवाल , डॉ. गौरव अग्रवाल ने कोरोना बीमारी के बिना लक्षण और सौम्य लक्षण वाले मरीजों के इलाज के बारे में जानकारी प्रदान की।


गौरतलब है कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन गोंदिया द्वारा सप्ताह में 3 दिन गुरुवार , शनिवार , मंगलवार को जनजागृति लाने के उद्देश्य से जूम एप्लीकेशन द्वारा मरीजों और लोगों से सीधे संवाद स्थापित कर निशुल्क सेवाएं प्रदान करने का निश्चय किया है , इसी के तहत 22 अप्रैल गुरुवार शाम ऑनलाइन बैठक का आयोजन जूम प्लेटफार्म के ज़रिए किया गया ।

इस सेमिनार में कोरोना वायरस बीमारी के संकेत और लक्षण क्या हैं ? पीड़ित मरीजों पर क्या-क्या उपचार किए जाते हैं ? स्वयं को सुरक्षित करने के लिए 6 मिनट का वाकिंग टेस्ट , कोरोना के प्रकोप से निपटने के लिए स्वास्थ्य क्षेत्र किस तरह तैयार है और किन दवाइयों और किन ब्लड टेस्ट रिपोर्ट का उपयोग किस- किस तरह के हालात में किया जाता है ? ऐसे अनेक प्रश्नों के साथ होम आइसोलेशन दौरान स्वास्थ्य की देखभाल कैसे करें ? संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण के प्रयास को कैसे अस्पतालों द्वारा प्राथमिकता दी गई है ? साथ ही मरीजों की देखभाल में स्वास्थ्य प्रणाली के क्षमता में कैसे बढ़ोतरी हो गई है ? ऐसे ही अनेक प्रश्नों के जवाब और जानकारी इस सेमिनार के माध्यम से गोंदिया MIA के पैनलिस्ट ने देते हुए निशुल्क सेवाएं प्रदान की।

ऑनलाइन मीटिंग में शामिल हुए तमाम लोगों का शुक्रगुजार हूं- डॉ. विकास जैन
इंडियन मेडिकल एसोसिएशन गोंदिया की अध्यक्ष डॉ. विकास जैन ने कहा- मैं उन सभी लोगों का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने जागरूकता का परिचय देते हुए कोविड कर सवाल पूछे , कोरोना के इलाज से संबंधित नागरिकों के सवालों और जिज्ञासाओं का समाधान डॉक्टर्स के पैनल द्वारा ज़ूम प्लेटफार्म के जरिए किया गया।

100 की पूर्णकालिक उपस्थिति में कार्यक्रम पूरे समय तक, पूरी क्षमता के साथ चला।

अगली बार से 300 क्षमता के लिए प्रयास करेंगे ? और जो लोग शामिल नहीं हो सके शीघ्र ही हम यूट्यूब पर कार्यक्रम अपलोड करेंगे ताकि यह लोगों को लाभान्वित कर सकें।

भविष्य के कार्यक्रमों के लिए सभी दर्शकों को आश्वस्त करता हूं कि या तो हम क्षमता बढ़ाएंगे ? या हम इसे फेसबुक ( एफबी) या यूट्यूब पर लाइव चलाएंगे , ताकि यह प्रोग्राम तमाम जनता तक पहुंच सके ‌।

रवि आर्य