Published On : Thu, Apr 23rd, 2020

गोंदिया:कोई ना रहे भूखा , इसलिए गुरुद्वारे में लंगर तैयार

रोजाना 2500 लोगों को खाना खिलाकर कर रहे हैं मानवता की सेवा

गोंदिया लाकडाउन में सामाजिक संस्थाएं भोजन सेवा के कार्य में जुटी है । रेलटोली स्थित गुरुद्वारा श्री गुरु सिंघ सभा द्वारा गुरुद्वारे में विशेष लंगर पकाया जा रहा है इसमें गुरुद्वारा श्री तेग बहादुर कमेटी (जयस्तंभ चौक) भी सहयोग कर रही है। रोजाना इस तैयार भोजन से सुबह-शाम 2500 जरूरतमंदों को खाना खिलाकर मानवता की सेवा की जा रही है।


प्रबंधन कमेटी ने बताया कि लंगर सेवा के इस कार्य में सभी हाथ बटा रहे हैं। सर्वधर्म सेवा शांति मिशन के तहत गुरुद्वारे के बाहर भी लंगर सेवा को लाकडाउन घोषित होने के साथ 23 मार्च से शुरू किया गया है ताकि कोई भी व्यक्ति भूखा ना रहे। गुरुद्वारा परिसर के हॉल में सुबह 1250 और शाम को 1250 लोगों के लिए लंगर पकता है ‌। इस लंगर सेवा के लिए 50 सेवादार अलग-अलग शिफ्ट में ड्यूटी के हिसाब से अपना कर्तव्य निभाते हैं।

सुबह और शाम का मैन्यू अलग अलग होता है आलू भट्टा ,गोभी , कढ़ी , दाल , राजमा ,चावल , रोटी जैसे व्यंजन तैयार किए जाते हैं।

आटा गूंथने से लेकर , रोटी सेंकने तक और इस तैयार रसोई को साफ-सुथरे बर्तनों में भरकर लंगर गड्डी मेें रखा जाता है ।
लंगर सेवा के लिए तीन वाहन तैयार रहते हैं। जो दोपहर 12 बजे और शाम 7 बजे लंगर रथ लेकर कुंभारे नगर , लाल पहाड़ी (मुर्री क्षेत्र ) रामनगर, कुड़वा शिवाजीनगर , ग्राम टेमनी , छोटा गोंदिया , जिला केटीएस अस्पताल परिसर इन इलाकों पहुंचते हैं जहां सेवादार अपने हाथों से लंगर वितरण का कार्य करते हैं।

सुबह -शाम गरीब बच्चों में दूध , बिस्किट तोष का वितरण
गोंदिया से सटे ग्राम कुड़वा के वार्ड क्रमांक 3 , शिवाजी नगर स्थित पालावर्ची शाला प्रांगण में रोजाना सुबह- शाम 125 गरीब बच्चों के बीच दूध , बिस्किट , तोष का वितरण भी किया जा रहा है। गुरुद्वारा प्रबंधन की ओर से जानकारी देते बताया गया कि मानवता की सेवा करने के मकसद से शुरू की गई है यह लंगर सेवा जब तक लाकडाउन शुरू रहेगा तब तक गुरु की कृपा से यूं ही निरंतर जारी रहेगी।

रवि आर्य