Published On : Sun, Aug 11th, 2019

खून का बदला.. खून

गोंदियाः आपसी पुरानी रंजिश को लेकर युवक का कत्ल

गोंदिया। जिले की सड़क अर्जुनी तहसील के सौंदड़ के कृृष्णावार्ड की गल्ली में घेरकर 10 अगस्त शनिवार के शाम 5 बजे एक आदिवासी खुशाल मड़ावी (25) नामक युवक पर चाकू से सपा-सप वार करते हुए उसका कत्ल कर दिया गया।

इस कत्ल की वजह आपसी पुरानी रंजिश बतायी जाती है। छोटे भाई के खून का बदला लेने के लिए बड़े भाई ने हाथ में खंजर उठा लिया और अपने ही अंदाज में सड़क पर इंसाफ करने निकल पड़ा तथा वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार हो गया। दिनदहाड़े घटी इस कत्ल की वारदात से ग्राम सौंदड़ में सनसनी फैल गई।

डुग्गीपार पुलिस ने इस प्रकरण के संदर्भ मृतक की मां फिर्यादी शांताबाई मड़ावी (65 रा. कृष्णावार्ड, सौंदड़) की शिकायत पर फरार आरोपी प्रमोद देशकर (40 रा. कृष्णावार्ड) के खिलाफ धारा 302 सहकलम 3, 2, 5 अनुसूचित जाति जमाति प्रतिबंधक कायदा (एट्रासिटी एक्ट) का जुर्म दर्ज किया है।

साढ़े 3 वर्ष पूर्व भरत का कत्ल कर लाश पटरी पर फेंकी गई थी

डुग्गीपार थाना अंतर्गत आने वाले सौंदड़ के बाजारवाड़ी इलाके में 8 मार्च 2016 की रात आपसी पुरानी रंजिश को लेकर 3 युवकों ने तीक्ष्ण हथियारों से हमला करते हुए भरत देशकर नामक युवक का कत्ल कर दिया था तथा सुनियोजित षड़यंत्र के तहत लाश उठाकर रात के अंधेरे में गोंदिया से चंद्रपुर जाने वाले रेल मार्ग पर फेंक दी थी ताकि मामला आत्महत्या का प्रतित हो? इस प्रकरण में पुलिस ने जांच पश्‍चात 23 मार्च को खुशाल मड़ावी तथा उसके 2 साथियों को गिरफ्तार किया था। तब से लेकर दोनों पक्षों के बीच आपसी रंजिश चल रही थी , उसी खुन्नस में मृतक भरत देशकर के बड़े भाई आरोपी प्रमोद देशकर ने 10 अगस्त को हाथ में खंजर लेकर वार्ड की गल्लियों में खुशाल मड़ावी को दौड़ाया और उसके सीने तथा पेट में खंजर उतार दिया।

डुग्गीपार के थाना प्रभारी विजय पवार ने जानकारी देते बताया, हत्या की वजह आपसी पुरानी रंजिश थी। मृतक युवक खुशाल की फिर्यादी मां शांताबाई की शिकायत पर मर्डर का जुर्म दर्ज कर लिया गया है। फरार आरोपी की खोजबीन में पुलिस जुटी है। बहरहाल मामले की जांच देवरी के उपविभागीय पुलिस अधिकारी प्रशांत ढोले कर रहे है।

..रवि आर्य