Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!
    | | Contact: 8407908145 |
    Published On : Fri, Oct 18th, 2019
    nagpurhindinews | By Nagpur Today Nagpur News

    गोंदियाः 21 जिंदा डेटोनेटर बरामद

    चुनावों के बीच हिंसक वारदात को अंजाम देना था नक्सलियों का मकसद

    गोंदिया। जिले में विधानसभा चुनावों की सरगर्मी तेज है, 4 सीटों में से जिले के आमगांव-देवरी विधानसभा तथा अर्जुनी मोरगांव विधानसभा क्षेत्र यह नक्सल प्रभावित अतिदुर्गम इलाके में आते है, जहां मतदान का समय सुबह 7 बजे से दोपहर 3 बजे तक निश्‍चित है, लिहाजा सुरक्षा की दृष्टि से इन इलाकों में पुलिस प्रशासन हर गतिविधि पर पैनी ऩजर बनाए हुए है।

    बुधवार 16 अक्टूबर को पुलिस अधिकारियों को इस बात की गुप्त और पुख्ता जानकारी मिली कि, देवरी पुलिस स्टेशन अंतर्गत आने वाले ग्राम डोंगरगांव/डिपो यहां स्थित एक नक्सल समर्थक के घर कुछ संदिग्ध हलचल देखी जा रही है, क्योंकि मौसम चुनाव का है लिहाजा खबर मिलते ही पुलिस प्रशासन चौंकना हो गया।

    पुलिस अधीक्षक मंगेश शिंदे , अप्पर पुलिस अधीक्षक अतुल कुलकर्णी तथा देवरी कैम्प के उपविभागीय पुलिस अधिकारी प्रशांत ढोले के मार्गदर्शन में नक्सल विरोधी अभियान पथक नवेगांवबांध के पुलिस उपनिरीक्षक बिजेवार, पो.ह. कांटगे, देवरी थाना प्रभारी कमलेश बच्छाव, पुलिस उपनिरीक्षक अवचार, पोसि खान, घरतकर, लाडगे, पठान, सहित सी-60 कमांडों की टीम ने देर रात घर पर दबिश दी इस दौरान पुलिस पार्टी ने पूरे मकान में सर्च अभियान चलाया, तलाशी के दौरान 21 जिवीत डेटोनेटर बरामद हुए।

    पुलिस ने मंसूबे किए नाकाम, नक्सल समर्थक गिरफ्तार

    प्रारंभिक पूछताछ में यह बात सामने आयी है कि, घर के भीतर छिपाकर रखे गए यह विस्फोटक नक्सलियों के इस्तेमाल हेतु संग्रहित कर रखे गए थे जिसका उद्देश्य विधानसभा चुनाव के दौरान घात लगाकर किसी षड़यंत्र को अंजाम देना था। पुलिस ने समय रहते डेटोनेटर विस्फोटक का भारी जखिरा बरामद कर लिया और इस संदर्भ में एक 45 वर्षीय नक्सल समर्थित व्यक्ति की गिरफ्तारी की है। संभावना जतायी जा रही है कि, इस प्रकरण में और भी गिरफ्तारियां हो सकती है।

    बहरहाल पकड़े गए नक्सल समर्थक के खिलाफ देवरी थाने में धारा 4, 5 भारतीय विस्फोटक कायदा, सहकलम 18, 20, 23 बेकायदा हलचल प्रतिबंधक अधिनियम व कलम 3 सार्वजनिक मालमत्ता नुकसान अधिनियम का जुर्म दर्ज किया गया है। प्रकरण की जांच उपविभागीय पुलिस अधिकारी (देवरी) प्रशांत ढोले कर रहे है।

    सहयोगी पुलिस अधिकारी व टीम द्वारा तत्काल एक्शन लिए जाने तथा किसी अप्रिय घटना को समय रहते टालने पर जिला पुलिस अधीक्षक ने नक्सल विरोधी अभियान पथक व कमांडों का अभिनंदन किया है।

    …रवि आर्य

    Stay Updated : Download Our App
    Mo. 8407908145